मशहूर मौलाना जरजिस पर रेप के मुकदमे के बाद मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। अब एक 15 साल पुराना खत सामने आया है, जिसने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। यह खत सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। फिलहाल इसके  बारे में अधिक जानकारी हासिल नहीं हुई है।
-पढ़ें इस खत में क्या लिखा है-
मोहतरम जमाते अहले हदीस इटावा यू0पी0      दिनांक 6.3.2001
अस्लामोअलैकुम वराहमतुल्लाहे वबारकातहू बाद सलाम मसनून अर्ज है कि आप ममुहम्मद जरजीस पुत्र मुहम्मद इलियास को मिम्बर पर चढ़ने का कतअन मौका न दें क्योंकि यह ऐसा लडका है कि इसके पीछे तो उम्मते मुस्लिमा की नमाज तक नहीं होगी। क्योंकि यह आवारा बदचलन जिनाकार लडका है। अभी तकरीबन एक या डेढ साल पहले यह बाडी जिला (धौलपुर) गया। वहां पर तकरीर के बाद कहने लगा कि मेरी मां सख्त बीमार है और आगरा में इलाज के लिए दाखिल है। ओर उसका आपरेशन होगा इससे लिये रूपये नहीं हैं, लिहाजा वहां से तकरीबन 30,000/- रूपये यह लेकर आया था और यह इसी तरह जगह-जगह जाता है, कही कहता है कि हमारा मकान गिर गया है। अम्मा बहिनें बेपर्दा पडी हैं। कहीं मदसे का बताता है और तमाम गाफिल बेभूल मुसलमानों से रूपये लेकर घर में जमा कर देता है और बाडी धौलपुर में इसने तकरीबन तीन चार लड़कियों से जिना भी किया है। इसलिए अगर यह लडका कही पर भी आता है तो इसको मिम्बर और मुस्लले पर बिल्कुल भी जगह न दी जाये।
(फकत वसलाम -मौलवी मुहम्मद सईद सलफी, बाडी जिला- धौलपुर राजिस्थान)
दिनांक -6.3.2001
खबर तथा फोटो साभार – upuklive.com
शुक्रिया UPUK LIVE टीम

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें