pro

जोधपुर स्थित मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी में दुनिया के मशहूर दार्शनिकों में शामिल प्रो. अख्तरुल वासे को कुलपति नियुक्त किया गया हैं.

प्रोफेसर वासे कई राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित हो चुके हैं. अध्ययन के क्षेत्र में उन्हें 25 वर्षो से ज्यादा का अनुभव है. इस दौरान वे यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रहे. साथ ही जाकिर हुसैन इन्स्टीट्यूट आफॅ इस्लामिक स्टडीज जामिया मिल्लिया इस्लामिया नई दिल्ली के निदेशक भी रह चुके हैं.

और पढ़े -   शिवराज सरकार ने बनवाए भगवा शौचालय, मंदिर समझकर महिला पहुंच गई पूजा करने

प्रोफेसर वासे का संयुक्त राष्ट्र संघ से जुड़ी विभिन्न संस्थाओं से सक्रिय सम्बन्ध रहा है और वे 50 से ज्यादा देशों की यात्रा कर चुके है. प्रोफसर वासे 1995 से 2005 तक ख्वाजा गरीब नवाज दरगाह कमेटी अजमेर के सदस्य, उपाध्यक्ष और अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

इस दौरान प्रोफेसर अख्तरुल वासे ने अपने सम्बोधन में कहा कि मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी जोधपुर की विशषता यह है कि ये समाज के उन अति पिछड़े और अशिक्षित लोगों तक शिक्षा पहुंचाने के लिए समर्पित है जो कि कम साधन और दूसरी सामाजिक रुकावटों की वजह से शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ रहते हैं.   हम इस विश्वविद्यालय को व्यावसायिक नहीं, बल्कि सेवा की भावना से आगे बढ़ाने के लिए वचनबद्ध हैं.

और पढ़े -   अमरिंदर सिंह ने किसानों से किया वादा निभाया, सीमांत कृषकों का 2 लाख रु तक का कर्ज माफ़

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE