dali

कैराना में हिन्दुओं के कथित पलायन को लेकर जितना बवाल मचा उतनी ही ख़ामोशी गोंडा जिले के वजीरगंज में दलित परिवारों के पलायन पर हैं.

जातीय भेदभाव और दबंगों के अत्याचार के कारण गांव के एक दर्जन से भी अधिक दलित परिवार वजीरगंज से पलायन कर गए हैं. वजीरगंज के सेहरिया के मजरे कोरी पुरवा में एक दर्जन से अधिक दलित परिवार खेतों में छप्पर मे रह रहे है. गांव के कथित ऊंची जाति के लोग इनसे मुफ्त में काम कराते थे और पैसा मांगने पर मार पीटकर करते थे. जब इन दलितों ने मुफ्त काम करने से मना कर दिया तो उन्होंने इन्हें गांव छोड़ने का फरमान सुना दिया. दलित परिवारों को मजबूरन अपना गाँव छोड़कर जाना पड़ा.

लितों के पलायन की खबर के बाद प्रशासन की नींद खुली. ए.एस.पी आर.के.सिंह एसडीएम तरबगंज जगदीश सिंह और सीओ एस. हम्द  ने मौके पर जाकर पीड़ितों से मुलाकात की और उन्हें आश्वासन देते हुए घर वापस जाकर रहने को कहा. साथ ही एसडीएम जगदीश सिंह ने 5 सदस्यीय टीम गठित कर जमीन पैमाइश का निर्देश दिया और सुरक्षा हेतु पुलिस तैनात कर दी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें