पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत के बाद बुधवार को किसान आंदोलन और उग्र हो गया. जिसके चलते मंदसौर सहित पूरा मध्यप्रदेश जल रहा है.

मंदसौर के सुवासरा में बुधवार दोपहर बाद हालात बिगड़ गए. उग्र किसानों ने कई घरों और दुकानों में आग के हवाले कर दिया. इस घटना के बाद से ही सुवासरा के लोग पूरी तरह से दहशत में है. वहीँ पिपल्यामंडी में भी  हालात पर काबू पाने के लिए बुलाई गई रैपिड एक्शन फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है.

और पढ़े -   आज़ादी के 70 साल बाद भी जातिवाद, ऊंच-नीच, भ्रष्टाचार से आज़ादी की ज़रूरत : फैसल लाला

प्रदर्शनकारियों ने आग लगाते समय स्थानीय लोगों को धमकी दी और कहा कि जो आग बुझाएगा उसके साथ अच्छा नहीं होगा. केंद्र सरकार ने हालात से निपटने के लिए करीब 110 पुलिसकर्मियों को भेजा है.

किसानों ने मीडियाकर्मियों को कवरेज करने से रोक दिया और यहां पहुंचे कांग्रेस नेताओं को भी वापस लौट जाने की चेतावनी दी. जिले के बरखेड़ा इलाके में ट्रेन की पटरियां उखाड़ दी गईं.

और पढ़े -   रियल में शुरू हुई 'टॉयलेट एक प्रेमकथा', शौचालय के लिए महिला ने मांगा तलाक

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE