*कलेक्टर व एसपी ने दी जानकारी: शामगढ़ (मंदसौर)। वाहन रैलियों और अन्य यात्राओं से बार-बार हो रहे तनाव को देखते हुए कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह व एसपी मनोज शर्मा ने अब जिले भर में धरना प्रदर्शन व रैलियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। 12 जनवरी से शामगढ़ में पूरी तरह शांति के प्रयास करते हुए स्कूल व बाजार खुलवाए जाएंगे।

shamgarh23_2016110_221629_10_01_2016

सोमवार रात 8 बजे शामगढ़ में कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह एवं एसपी मनोज शर्मा ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि जिले में बार-बार हो रहे सांप्रदायिक तनाव व शामगढ़ की घटना के बाद अब पूरे जिले में धरना व प्रदर्शन पर आगामी आदेश तक प्रतिबंध लगा दिया है। इस प्रकार की रैलियों का कोई औचित्य नहीं है एवं बाहरी लोगों को रैलियों में बुलाना अनुचित है। एसपी ने कहा कि पुलिस पूरी निष्पक्षता से कार्रवाई करेगी। इसमें कोई पक्षपात नहीं होगा। शामगढ़ में शीघ्र ही टीआई की पदस्थापना की जाएगी।

और पढ़े -   हरियाणा में दलित युवक को नंगा कर पीटा, फिर किया गया कुकर्म

कलेक्टर ने जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि 12 जनवरी से नगर में पूरी तरह से शांति हो इसके लिए समुचित प्रयास करते हुए बाजार व स्कूल खुलवाएंगे। प्रशासन रात भर सारी स्थिति पर ध्यान रखने के बाद अगली कार्रवाई करेगी। एसपी श्री शर्मा ने कहा कि आरोपियों की कितनी संख्या है। अभी नहीं बता सकते हैं। विधायक हरदीपसिंह डंग ने अधिकारियों से कहा कि चिन्हित करके दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे एवं निर्दोष लोगों को प्रताड़ित नहीं किया जाए। पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार, नप अध्यक्ष अर्जुन सोनी ने भी अधिकारियों से चर्चा की।

और पढ़े -   अब बाबरी मस्जिद पर शिया वक्फ बोर्ड ने जताया अपना हक़

रविवार को सख्ती करते तो यह नौबत नहीं आती: इधर डाक बंगले पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए विधायक हरदीपसिंह डंग ने कहा कि शामगढ़ में पुलिस व प्रशासन रविवार को ही सख्त कदम उठा लेते तो यह नौबत नहीं आती। उन्होंने आरोप लगाया कि शामगढ़ शांति प्रिय नगर है जिसकी फिजां खराब की जा रही है। कुछ असामाजिक तत्व दोनों समुदायों को बदनाम कर रहे हैं। ऐसे तत्वों को चिन्हित कर पुलिस प्रशासन को कड़ी कार्रवाई करना चाहिए। साभार: नईदुनिया

और पढ़े -   स्वच्छ भारत अभियान के लिए निकला फरमान - नहीं है पैसा तो पत्नी को बेचकर शौचालय बनाओं

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE