बाराबंकी: पुलिस की मौजूदगी में एक शख्स पर तेल डालकर उसे आग के हवाले कर दिया गया। विक्टिम का आरोप है कि सपा सरकार के मंत्री की शह पर दबंगों ने जमीन विवाद के चलते उसकी मां से अभद्रता की और उसे आग लगा दी।

कहां हुई घटना ?
-मामला बाराबंकी के कोतवाली हैदरगढ़ क्षेत्र के कस्बा हैदरगढ़ का है।
-जहां यासीन नाम के व्यक्ति को दबंगों ने जिंदा जला दिया।

70 फीसदी जल चुका था विक्टिम 

-जिला हॉस्पिटल में ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर राजेश ने बताया कि यासीन 70 फीसदी जल चुका है।
-यासीन को प्राथमिक उपचार के बाद उसे राजधानी लखनऊ रेफर कर दिया गया है।

यूपी सरकार के मंत्रियों पर लगाया आरोप
-यासीन ने बताया कि यूपी सरकार के ग्राम विकास मंत्री अरविन्द सिंह गोप, उनके बड़े भाई और बाराबंकी से जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक सिंह की शह पर दबंगो ने उसे जलाया है।
-यासीन के मुताबिक दबंगों का उससे जमीन का विवाद चल रहा था।
-मंत्री और उनके भाई लगातार उस पर दबंगों को जमीन देने का दबाव बना रहे थे।
-इस बात की फरियाद लेकर यासीन की मां मंत्री और उनके भाई के घर गई थी।
-वहां मंत्री और उनके भाई ने उल्टा उससे ही आधी जमीन दबंगों को दे देने का दबाव बनाया।

और पढ़े -   कांग्रेस नेता को मौत की धमकी - भारत में रहते ही जिंदा रहना तो मोदी-मोदी कहना होगा

पुलिस ने भी बनाया दबाव
-पुलिस भी मंत्री और उनके भाई के इशारे पर यासीन पर दबंगों को जमीन दिए जाने का दबाव बना रही थी।
-इसके लिए हैदरगढ़ के कोतवाल और दरोगा ने 15 दिन पहले भी यासीन के घर जाकर उसकी मां के साथ अभद्रता और मारपीट की थी।
-पुलिस ने यासीन की मां से जमीन दबंगों को देने की बात कही थी।

मां से की अभद्रता 
-यासीन ने बताया कि दबंग पुलिस के साथ जमीन को खाली कराने पहुंचे।
-पुलिस बल को देखकर पहले वह डरकर भाग खड़ा हुआ।
-पुलिस ने उसकी मां हबीबुल को पकड़ कर अभद्रता शुरू कर दी।
-वह कुछ दूरी पर छिपकर अपनी मां को देखने लगा।
-तभी दबंग इस्माईल, मोबीन और लोले की नजर यासीन पर पड़ी।
-दबंगों ने यासीन को पकड़ लिया।

जब नहीं दी जमीन तो जिंदा जलाया

-जब यासीन जमीन देने को तैयार नहीं हुआ तो दबंगो ने यासीन को जिंदा जलाकर मारने का प्रयास किया।
-दबगों के साथ भारी संख्या में खड़ी पुलिस यह सब तमाशा चुपचाप देखती रही।
-आस-पास के लोगों ने यासीन की आग बुझाई।
-पुलिस ने यासीन की आग बुझाने का प्रयास तक नहीं किया।

और पढ़े -   खतौली रेल हादसें में 8 अधिकारियों पर कार्रवाई, जांच में सामने आई खुलकर लापरवाही

विक्टिम की बहन ने कहा
-यासीन की बहन शाहजहां के मुताबिक यह जमीन नगर पंचायत हैदरगढ़ की है।
-यह जमीन पिछले लगभग 50 सालों से उनकी मां हबीबुल के नाम पर है।
-इस जमीन पर उसके मामा जो काफी दबंग है की नीयत खराब हो गई।
-शाहजहां ने बताया कि इस जमीन का विवाद डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में विचाराधीन है।
-शाहजहां ने इस घटना के लिए सीधा-सीधा अरविंद सिंह गोप और उनके जिला पंचायत अध्यक्ष भाई अशोक कुमार सिंह पर आरोप लगाया है।

क्या कहती है पुलिस

-अपर पुलिस अधीक्षक सफीक अहमद ने यासीन के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया।
-उन्होंने कहा कि यासीन ने खुद अपने हाथों से अपने ऊपर तेल डालकर आग लगाई है।
-पुलिस का कहना है कि पुलिस एक आदेश के तहत कार्रवाई के लिए मौके पर गई थी।
-सरकारी काम में व्यवधान डालने के उद्देश्य से यासीन ने खुद आग लगाई है।
-पुलिस ने यासीन और उसके परिवार पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का केस दर्ज किया है। (newztrack.com)

और पढ़े -   मराठवाड़ा में रोज दो से तीन किसान कर रहे आत्महत्या: सरकारी रिपोर्ट

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE