चंडीगढ़  पंजाब में अब गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान करना बहुत महंगा पड़ सकता है। ऐसा करने वालों को ताउम्र जेल की सलाखों के पीछे बिताना पड़ सकता है।

 

पंजाब विधानसभा में आज एक विधेयक को मंजूरी दी गई जिसके प्रावधानों के अनुसार लोगों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मकसद से गुरु ग्रन्थ साहिब को नुकसान पहुंचाने वाले या उसे अपवित्र करने वाले व्यक्ति को आजीवन कारावास की सजा दी जा सकती है।

और पढ़े -   मुंबई कमिश्नर पडसलगीकर ने पुलिस फ़ोर्स में मुसलमानों की कमी पर व्यक्त की चिंता

उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता (पंजाब संशोधन) विधेयक को पेश किया था। विपक्ष के नेता चरणजीत सिंह चन्नी, कांग्रेस विधायक अश्विनी सेखरी और तरलोचन सिंह द्वारा विधेयक पर लाए गए संशोधन ध्वनिमत से खारिज हो गए।

कांग्रेस नेता चाहते थे कि अन्य धर्मग्रन्थों गीता, बाइबिल, कुरान, रामायण और महाभारत को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के लिए भी ऐसी ही सजा का प्रावधान हो। (NBT)

और पढ़े -   तेलंगाना में टीआरएस के सर्वे में बीजेपी को नहीं मिली पुरे राज्य में एक भी सीट

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE