HinduJHARKHAND

पेड़ से लटका कर मारे गए पशु व्यापारियों, मजलूम और इम्तियाज के घर रविवार को नेताओं का तांता लगा रहा। झाविमो के बाबूलाल मरांडी और प्रदीप यादव, कांग्रेस के सुखदेव भगत, बंधु तिर्की, रामचंद्र चंद्रवंशी समेत कई लोग जुटे। मरांडी ने राज्य सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि इस राज में कोई भी सुरक्षित नहीं है। पिछले 15 महीने में 55 घटनाएं घटी हैं, जिसमें 30 जानवरों से जुड़े मामले हैं। पूरे प्रकरण की जांच सीबीआई या रिटायर्ड जज से कराई जाए।

परिजनों ने की सीबीआई जांच की मांग
नेताओं के घर पहुंचने पर परिजनों ने उनसे मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग की। सभी ने इस बात पर हामी भरी। कांग्रेस के सुखदेव भगत ने परिजनों को सांत्वना दी, जबकि बाबूलाल मरांडी ने पार्टी की ओर से 50-50 हजार रुपए देने की बात कही।

क्या है पूरा मामला
शुक्रवार को बालूमाथ के हेरहंज थाना क्षेत्र निवासी मो मजलूम और इम्तियाज की हत्या कर शवों को पेड़ से लटका दिया गया था। दोनों पशु व्यापारी थे और पशुओं को लेकर मेला में जा रहे थे। मामले को लेकर लोगों ने बालूमाथ में जम कर हंगामा किया था। उपद्रवियों ने पत्थरबाजी भी की थी, जिसमें एसडीएम और तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। दूसरे दिन पुलिस ने हत्याकांड में शामिल पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया था।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें