water-train_650x400_41460427262

मुंबई: रेल विभाग की और से सूखे से जूझ रहे महाराष्ट्र के लातूर को ट्रेन के जरिये 6 करोड़ 20 लाख लीटर पानी भेजने और इसके परिवहन शुल्क के रूप में वहां के जिला कलक्टर को 4 करोड़ रुपये का बिल मिला है।

मध्य रेलवे में महानिदेशक एसके सूद के अनुसार, ‘हमने प्रशासन के आग्रह अनुरूप लातूर जिला कलेक्टर को बिल भेजा है।’ सूद ने कहा, ‘यह जिला प्रशासन पर है कि वह इसे अदा करते हैं या उचित माध्यम से इसे माफ करने का आग्रह करते हैं। हमने उनके आग्रह अनुसार जल परिवहन बिल भेज दिया।’

और पढ़े -   पाकिस्तान की जीत पर बुरहानपुर में नहीं लगे थे देशद्रोही नारे, शिकायतकर्ता बोला - पूरा मामला ही फर्जी

‘जलदूत’ के नाम से पानी की पहली ट्रेन पश्चिमी महाराष्ट्र के मिराज से 11 अप्रैल को चली थी और तकरीबन 342 किलोमीटर का फासला तय कर अगले दिन 12 अप्रैल को लातूर पहुंची थी। पहले 10 वैगन की ट्रेन चली थी और उसकी नौ खेप पूरी होने के बाद, 50 वैगन वाली ट्रेन चलाई गई थी।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE