मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले की करैरा जनपद में पंचायत दलित अफसर रमेश जाटव की जनपद पंचायत के सदस्यों ने मीटिंग के दौरान पीट-पीटकर हत्या कर दी.

करैरा जनपद में पदस्थ दलित अधिकारी रमेश जाटव पंचायत इंस्पेक्टर के पद पर तैनात था और वह अपना कार्य पूरी ईमानदारी से करता था. जनपद पंचायत के सदस्यों ने मीटिंग के दौरान इस कदर पीटा की उसकी मौत हो गई. उन्हें गंभीर हालत में ग्वालियर रिफर किया गया था जहां डॉक्टरों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया.

और पढ़े -   अब बरेली के 200 से ज्यादा दलितों परिवारों ने हिंदू धर्म त्याग कर अपनाया बौद्ध धर्म

परिजनों का आरोप है कि कुछ जनप्रतिनिधि रमेश से जालसाजी से काम करवाना चाहते थे, वहीं जब रमेश ने इंकार किया तो शनिवार शाम को हुई जनपद की बैठक में कुछ सदस्यों ने रमेश की पिटाई कर दी, जिससे उसकी सर की नस फट गई.

साथ ही परिजनों का आरोप है कि अध्यक्ष व सीईओ काफी समय से उसे प्रताड़ित कर रहे थे, जिससे उनकी मानसिक स्थिति खराब हो गई थी.

और पढ़े -   प्रशासन का दलितों को आदेश - सीएम योगी से मिलना है तो नहाकर, पाउडर-सेंट लगाकर आओ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE