khaap

शनिवार को हुई खाप पंचायतों की बैठक में हिंदू विवाह अधिनियम को उत्तर भारत में हो रही ऑनर किलिंग की घटनाओं के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि हिंदू विवाह अधिनियम हमारे सामाजिक ताने-बाने के विरुद्ध बना हुआ है. इसलिए इस अधिनियम में बदलाव किया जाना चाहिए.

खाप प्रवक्ता धर्मपाल हुड्डा ने कहा कि हिंदू विवाह अधिनियम हमारे सामाजिक ताने-बाने के विरुद्ध बना हुआ है. हमारी सभ्यता संस्कृति में अपने गोत्र, गांव तथा सीमा से लगते गांवों में शादी करने की मनाही है, जबकि हिंदू मैरिज एक्ट में समान गोत्र में विवाह करने का प्रावधान है. इसके जरिए हमारी सभ्यता संस्कृति को तोड़ने की कोशिश की जा रही है, जिसे सहन नहीं करेंगे.

बैठक में खाप-84 प्रधान हरदीप अहलावत ने कहा कि हिंदू मैरिज एक्ट बनाने वालों को हमारी उत्तर भारत की संस्कृति का ज्ञान ही नहीं था. यह एक्ट दक्षिणपंथी लोगों ने तैयार किया।.

उन्होंने आगे कहा एक्ट में बदलाव के लिए खाप पंचायतें एकजुट होंगी तथा 10 नवंबर को चंडीगढ़ में एकत्रित होकर सरकार को इस संबंध में ज्ञापन सौंपेंगी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें