faisal

केरल के मलप्पुरम में एक 32-वर्षीय युवक की चाकू से गोद कर हत्या कर देने के मामले में पुलिस ने एक सप्ताह बाद रविवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के आठ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया हैं. युवक ने हाल ही में कुछ दिनों पहले धर्मपरिवर्तन कर इस्लाम धर्म अपनाया था.

इस हत्याकांड में पुलिस ने पुल्लानी विनोद, पुल्लानी सजीश, पुल्लीकल हरिदासन, पुल्लीकल दिनेशन, चनाथ सोनी, कलाथिल प्रदीप, कोट्टाइल जयप्रकाश और थैयिल नीजीश नामक आठ आरएसएस कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया हैं. इस हत्याकाण्ड को स्थानीय बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं की मदद से अंजाम दिया गया.

फैसल पी उर्फ अनील कुमार पुत्र अनंतम नायर ने लगभग आठ महीने पहले रियाद में इस्लाम धर्म अपनाया था. हाल ही में दो महीने पहले अगस्त में छुट्टी पर घर आने के बाद, उसने अपनी पत्नी और तीन बच्चों का भी धर्म परिवर्तन कराया था. जिसके बाद से उसे लगातार धमकियां मिल रही थी.

द टाइम्स आफ इंडिया  की रिपोर्ट के अनुसार, फैसल के साले विनोद ने हरिदासन, शाजी, सुनीश और सजीश की मदद की मदद से हत्या की जो हिन्दु संगठन के स्थानीय लीडर हैं. इन सभी ने पार्टी के एक सीनियर नेता को भी इस बारे में पहले से अवगत करा दिया था.

फैसल की मां मिनाक्षी ने कहा कि उसकी पत्नी के भाई ने कई बार उसे इस्लाम स्वीकार करने के कारण जान से मारने की धमकी दी थी. फैसल के पिता अनंतम नायर ने कहा, “वह अपनी मर्ज़ी से मुसलमान बना था. उस पर किसी ने दबाव नहीं बनाया था. यह उसका अपना फैसला था. लेकिन उसे जीने नहीं दिया गया.” हालाँकि उन्होंने यह भी कहा कि उसके इस फैसले से कुछ रिश्तेदार खुश नहीं थे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें