हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उदारवादी हुर्रियत कांफ्रेंस के चेयरमैन मीरवाइज मौलवी उमर फारुक को गिरफ्तार किया हैं. दोनों को नजरबंदी भंग करने को लेकर गिरफ्तार किया गया हैं.

गिलानी नजरबंदी भंग कर अपने घर से बाहर आ गए और समर्थकों की नारेबाजी के बीच जामिया चलो मार्च की अगुआई करने लगे. ऐसे में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर हुमहामा पुलिस स्टेशन ले गई. वहीं दूसरी तरफ उदारवादी हुर्रियत कांफ्रेंस के चेयरमैन मीरवाइज मौलवी उमर फारुक को भी जुलूस निकालने के आरोप में हिरासत में लिया गया है.

और पढ़े -   अंधविश्वास में डूबी शिवराज सरकार - इलाज के लिए ज्योतिषियों को लगाया जा रहा

मीरवाइज मौलवी उमर फारुक एक बजे के करीब नजरबंदी भंग कर नगीन स्थित अपने घर से बाहर निकल आए. उन्होंने अपने साथियों संग जामिया मस्जिद की तरफ मार्च शुरु कर दिया. लेकिन पुलिस ने मीरवाइज मौलवी उमर फारुक व उनके साथियों को उनके घर से कुछ ही दूरी पर रोक लिया.

गौरतलब है कि कश्मीर घाटी में अलगाववादियों ने आज पूर्ण बंद का एलान करते हुए जामिया मस्जिद श्रीनगर चलो का आहवान किया था.

और पढ़े -   हिंसा के बाद भी बंगाल में कायम है सद्भाव, मुस्लिम पड़ोसियों ने किया हिंदू युवक का अंतिम संस्कार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE