कश्मीर घाटी में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ हैं. हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की सुरक्षा बलों के हाथो मुठभेड़ में मारे जाने के बाद से लगातार 14वें दिन भी कर्फ्यू जारी हैं. सके कारण यहां आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो रहा है.

प्रशासन ने घाटी के सभी 10 जिलों में कफ्र्यूू की घोषणा करते हुए लोगों से घरों के भीतर ही रहने को कहा है. राज्य सरकार ने जुम्में की नमाज के बाद हिंसा की आशंका को देखते हुए कफ्र्यूू में कोई ढील नहीं दी. अलगाववादियों की तरफ से भी कश्मीर बंद सोमवार तक बढ़ा दिया गया है.

और पढ़े -   अलीगढ़: ठाकुरों ने भी चला दलितों का दांव, प्रशासन को दी इस्लाम अपनाने की धमकी

हालांकि प्रशासन ने चार जिलों- बारामूला, बडगाम, बांदीपोरा और गांदेरबल में गुरुवार को स्कूल खोलने की घोषणा की थी, लेकिन तनाव को देखते हुए परिजनों ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजना ही उचित समझा. पिछले दिनों झड़पों में घायल हुए एक युवक की मौत के साथ मरने वालों की संख्या 44 तक पहुंच गई हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE