पशु क्रूरता निवारण अधिनियम को लागू कर देश भर में गौहत्या पर रोक लगाने की केंद्र सरकार की मंशा को एक बार फिर से झटका लगा है. कर्नाटक सरकार ने घोषणा की है कि इस सबंध में केंद्र का नोटिफिकेशन जारी नहीं होगा. यानि गौमांस पर कोई प्रतिबंध नहीं लगेगा.

कांग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक विभाग की और से आयोजित ईद मिलन समारोह में मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि हर नागरिक को अपनी पसंदीदा भोजन खाने का अधिकार प्राप्त है. उन्होंने कहा कि हम पुराने कानून पर अमल करेंगे. लेकिन केंद्र के नोटनिकशन को जारी नहीं करेंगे.

और पढ़े -   दूरदर्शन और आकाशवाणी ने स्वतंत्रता दिवस पर त्रिपुरा के सीएम के भाषण नहीं किया प्रसारित

उन्होंने इस बात का भी आलोचना की कि केवल मुसलमान ही गोमांस खाते है. उन्होंने कहा, सभी मुसलमान भी गोमांस नहीं खाते और सब हिन्दू भी ऐसे नहीं है जो गौमांस खाते हो. उन्होंने कहा,  मैं नहीं खाता लेकिन अगर खाना चहुँ तो खाऊंगा. इस पर आप सवाल करने वाले कौन होते हैं?

राज्य में साम्प्रदायिक तनाव को लेकर उन्होंने कहा कि लोग साम्प्रदायिक और असामाजिक शक्तियों से बाख़बर रहैं और राज्य में शांति और व्यवस्था बरकरार रखें.

और पढ़े -   राष्ट्रगान ना गाने पर योगी सरकार करेगी मदरसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE