tunda

बुधवार सुबह करनाल जेल में पानीपत बस अड्डे पर ब्लास्ट के आरोपी अब्दुल करीम टुंडा पर जानलेवा हमला किया गया. इस दौरान उसे गला दबाकर मारने की कोशिश की भी की गई. जिसके बाद टुंडा को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं.

टुंडा को पानीपत में एक निजी बस में 1997 में हुए बम विस्फोट के सिलसिले में पानीपत की एक अदालत में पेश करने के लिए लाया गया था. इससे पहले टुंडा गाजियाबाद की डासना जेल में बंद था और बीती देर शाम को ही टुंडा को करनाल जेल में पानीपत कोर्ट में पेश करने के बाद भेजा गया था.

करनाल के पुलिस अधीक्षक पंकज नैन ने कहा, कैदियों ने कथित तौर पर उसका गला घोंटने की भी कोशिश की लेकिन सतर्क जेल स्टाफ ने उसे बचा लिया. उसे भारी पुलिस सुरक्षा में चिकित्सा जांच के लिए स्थानीय अस्पताल ले जाया गया.वह ठीक है.

टुंडा पर हमला करने वाले कैदियों की पहचान अमनदीप और जोगिंदर के रूप में हुई है. टुंडा पर अचानक जेल में हुए इस हमले के पीछे क्या वजह थी. इस बात का खुलासा नहीं हुआ हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Related Posts

loading...
Facebook Comment
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें