उत्तरप्रदेश के कानपुर में एक दलित युवक को नंगा कर लोहे की रॉड से पीटे जाने का मामला सामने आया हैं. जिले के झींझक में युवक के दोनों पैर तोड़ने के बाद उसको सड़क किनारे एक प्लॉट में फेंक दिया गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पीड़ित युवक झींझक ब्लॉक के मुंडेरा किन्नर सिंह गांव की सरपंच नन्ही शंखवार का देवर हैं. पिछले साल हुए पंचायत चुनाव में मिली हार के बाद गांव की रमाकांती, नन्ही से रंजिश रख रही थी. इसी के चलते शिवनाथ को पीटा गया हैं.

और पढ़े -   गोरखपुर में हुई बच्चों की मौतों को लेकर महाराष्ट्र में प्रदर्शन

गुरुवार की रात शिवनाथ जब बाजार से मजदूरी करके घर लौट रहा था, तभी झींझक कस्बे में पेट्रोल पंप के पहले रमाकांती, रेवती रमण, छोटे लल्ला, मनीष और ज्ञानेंद्र ने उसे पकड़ लिया. रमाकांती की मौजूदगी में ही शिवनाथ को लोहे की सरिया और डंडों से बुरी तरह पीटा गया और उसके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं छोड़ा.

पुलिस ने 24 घंटे बाद नामजद एफआईआर लिखी, लेकिन आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.

और पढ़े -   बिहार में बाढ़ बरपा रही कहर- अब तक गई 106 लोगों की जान, बढ़ सकता है आंकड़ा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE