kashmir_stonepelting_story_647_070516060856

श्रीनगर में शनिवार को ईदगाह इलाके के 6 वर्षीय किशोर का शव मिलने से हालात तनावपूर्ण हो गये हैं. कैसर सोफी की सुबह अस्पताल में मौत हो गई थी.

25 अक्तूबर को लापता होने के बाद शहर के शालीमार इलाके में उसे बेहोशी की हालत में पाया गया था. इलाके में रहने वाले लोगों का आरोप है कि सुरक्षाबलों ने सोफी को जबरदस्ती जहरीली चीज़ खिला देने के बाद बेहोशी की हालत में मरने के लिए छोड़ दिया.

और पढ़े -   गोरखपुर मामले में एक पिता का दर्द - स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ पुलिस ने नहीं की शिकायत दर्ज

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसे सपुर्दे खाक किए जाने के बाद कुछ युवकों ने सुरक्षाबलों पर पथराव किया जिसके बाद सुरक्षाबलों की कारवाई में 12 लोग घायल हो गए जिनमें से छह छर्रे लगने से घायल हो गए.

गौरतलब रहें कि हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद भडकी हिंसा को अलगाववादियों को लगातार 120 दिन हो गये हैं. पुलिस अधिकारी के अनुसार, श्मीर में किसी भी जगह पर लोगों की आवाजाही पर कोई रोक नहीं लगी है, पूरी घाटी में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत लोगों के जमा होने पर रोक लगी हुई है.

और पढ़े -   बच्चों को बचाने वाले डॉ कफील को योगी सरकार ने पद से हटाया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE