बच्चा चोरी की अफवाह फैला कर पीट-पीटकर हत्या के मामले में झारखंड पुलिस ने दो और लोगो को गिरफ्तार किया है. इन दोनों ने व्हाट्सएप पर बच्चा उठाने की अफवाह फैलाई थी. साथ ही सोशल मीडिया पर इस बारें में फर्जी लेख डाला था.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनूप टी मैथ्यू ने बताया कि फिलहाल शहर से बाहर एक और आरोपी सुशील अग्रवाल ने फोन पर पुलिस से कबूल किया कि उसने सौरव कुमार नाम के एक शख्स की फेसबुक पोस्ट को एडिट कर जिला प्रेस ग्रुप न्यूज नाम के अपने वाट्सएप ग्रुप पर भेजा.

और पढ़े -   सृजन घोटाला: बीजेपी नेता के घर पर छापा, 3 अरब की संपत्ति का हुआ खुलासा

इसी मैसेज को बिनोद केसरी द्वारा संचालित 40 अन्य वाट्सएप ग्रुप में न्यूज रफ्तार केाल्हन के नाम से फॉर्डवड किया गया था. पुलिस केसरी को हिरासत में ले कर पूछताछ की जा रही है. इसी व्हाट्एप मैसेज शंकर गुप्ता नाम के एक अन्य व्यक्ति द्वारा भी भेजे गए जिससे ग्रामीणों में दहशत फैल गई थी.

11 मई को वाट्सएप और सोशल मीडिया में मैसेज पेास्ट होने के बाद दोनों जिलों में अफवाहें फैल गईं. इसके एक दिन बाद ही बच्चा उठाने के कथित आरोपों के चलते जाडूगोरा जिले में दो लोगों की हत्या कर दी गई.

और पढ़े -   मुस्लिम प्रिंसिपल को झंडा फहराने से रोकने के मामले में 16 गिरफ्तार

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE