नई दिल्ली। जाटों के उग्र होते आरक्षण के चलते माहौल काफी बिगड़ चुका है। आंदोलनकारियों ने रेलवे स्टेशन, बीडियो, एसडियों कार्यालयों,सरकारी संपत्तियों को आग के हवाले कर दिया है। जिसके चलते भारतीय सेना ने वहां मोर्चा संभल लिया है। रोहतक में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। भारतीय सेना ने फ्लैग मार्च शुरू कर दिया है। जाट आंदोलनकारी अभी भी महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी के गेट के सामने डटे हुए हैं।

भिवानी में भी सेना सुबह से ही फ्लैग मार्च कर रही है। उग्र होते आंदोलन को देखते हुए पुलिस लाइन में हेलीकॉप्टर से सेना को भेजा गया है। आंदोलन के चलते करीब 485 ट्रेनों को रद्द किया गया है।

रोहतक में जाट आरक्षण को लेकर आंदोलन बेकाबू हो गया है। आंदोलनकारियों ने रोहतक जिला के कई मार्गों को खोद दिया है। जिसके चलते सेना की टुकड़ी भी नहीं पहुंच पाई। बाद में हेलीकॉप्टर के जरिए सेना को रोहतक के पुलिस लाइन मैदान में उतारा गया।

हरियाणा सरकार ने रोहतक के लिए सीनियर आईएएस अधिकारी एके सिंह और सीनियर आईपीएस अधिकारी बीएस संधु को आर्मी व जिला प्रशासन के बीच समन्वय स्थापित करने के लिये नियुक्त किया है।

रोहतक के कार्यवाहक एसपी सौरभ सिंह ने कहा कि शुक्रवार को आंदोलनकारियों के बीच असामाजिक तत्व शामिल हो गए, जिन्होंने माहौल को बिगाड़ा। हालात पर काबू पाने के लिए अतिरिक्त बल की मांग की गई है। सेंट्रल रेलवे के पीआरओ एके जैन ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। इसी के चलते कई स्थानों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है।

वहीं, ऑल इंडिया जाट आरक्षण संगठन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने कहा, हरियाणा सरकार की ओर से कोई ठोस प्रस्ताव नहीं दिया गया है। भाजपा सरकार जाटों को मूर्ख बनाने का प्रयास कर रही है, क्योंकि जाटों को आरक्षण देने के संदर्भ में उसके इरादे ठीक नहीं हैं। वहीं रेवाड़ी-शाहजहांपुर मार्ग पर जाटूवास व सुलखा गांव में लगाया जाम लगाया हुआ है।

शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि जाट को आरक्षण देने के लिए विधेयक का मसौदा तैयार करेगी और इस संदर्भ में सभी दलों से सुझाव मांगे हैं।

मलिक ने कहा, जाटों को आरक्षण देने में सिर्फ मुख्यमंत्री को समस्या है। भाजपा में शेष नेता आरक्षण देन के पक्ष में हैं। उन्होंने आरोप लगाया, खट्टर की जातिवादी मानसिकता है क्योंकि वह जाट नहीं है। वह खुद को गैर जाट नेता के तौर पर साबित करने का प्रयास कर रहे हैं। (eenaduindia)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें