kish

शनिवार को जम्मू के किश्तवाड़ जिले के सुखनोई गांव में रहस्यमय परिस्थितियों में आगे लगने से पूरा गाँव जलकर खाक हो गया हैं. इस आग से गाँव के करीब 100 घर पूरी तरह से जलकर राख हो गए हैं. इस हादसें में 500 से ज्यादा मवेशी भी मारे गए हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गाँव के लोग एक विरोध-प्रदर्शन रैली में हिस्सा लेने के लिए गाँव से बाहर गए हुए थे. इसी दौरान आग लग गई. गाँव के लोगों ने ठंड से बचने के लिए बड़ी तादाद में घास और लकड़ी इकट्ठा कर रखी थी सब जल गई. हालांकि अभी तक आग लगने के कारणों का खुलासा नहीं हुआ हैं.

किश्तवाड के उपायुक्त , गुलाम नबी बलवान ने जजानकारी देते हुए कहा कि  80 घर, एक मस्जिद, एक सूफी संत की दरगाह, एक स्कूल, पांच दुकानों और करीब 80 मवेशी-शेड आग में पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने तत्काल ग्रामीणों की मदद के आदेश दिए हैं.

स्थानीय प्रशासन की और से आग पीड़ितों के लिए प्रत्येक (प्रभावित) 10,000 रुपये की घोषणा की गई हैं, और 400 कंबल और 400 ‘pherans’ (पारंपरिक कश्मीरी बरसती) वितरित किये गए हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें