false-news-news-18-india-accused-muslims-hosting-pakistani-flag

देश में हालात पहले से ही तनावपूर्ण चल रहे है. ऐसे में डिजिटल मीडिया की गैरजिम्मेदाराना पत्रकारिता इस तनाव को और बढ़ाने का ही काम कर रही है.

एक प्रतिष्ठित न्यूज़ चैनल की गैरजिम्मेदाराना पत्रकारिता की वजह से एक बार फिर से उत्तरप्रदेश दंगों की आग में झुलसने से बच गया. दरअसल न्यूज़ चैनल ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर अप्संख्यक समुदाय के एक घर पर लगे इस्लामिक झंडे को पाकिस्तानी झंडा बताकर उस घर के मालिक और उस समुदाय के लोगों को देशद्रोही साबित करने और अल्प्संखयक समुदाय के खिलाफ बहुसंख्यक समुदाय को भडकाने की कोशिश की.

और पढ़े -   गोरखपुर: मृतक बच्चों के शवों को ले जाने के लिए एम्बुलेंस तक नहीं दे पाई योगी सरकार

false-news-news-18-india-accused-muslims-hosting-pakistani-flag

हालांकि इस मामले में यूपी पुलिस की कार्रवाई सराहनीय रही. जिसने समय पर ही इस कोरी अफवाह को ख़ारिज किया. जिसके चलते न्यूज़ चैनल को अपनी खबर पोर्टल से हटानी पड़ी. हालांकि पहली बार ऐसा मामला सामने नहीं आया है.

flag news

इससे पहले राजस्थान में और कश्मीर में भी प्रतिष्ठित समाचार पत्र इस तरह की खबरे अपने अखबारों में छाप चुके है. जिसके चलते राजस्थान वाले मामले में अखबार के संपादक और पत्रकार को जेल की हवा भी खानी पड़ी थी.

और पढ़े -   राष्ट्रगान ना गाने पर योगी सरकार करेगी मदरसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE