मध्य प्रदेश में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने वाले नेटवर्क की गिरफ्तारी के बाद राज्य में समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज चलाने का भी खुलासा हुआ था. इसी टेलीफोन एक्सचेंज के जरिए आईएसआई के लिए जासूसी की जाती थी.

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने सोमवार को विधानसभा में इस बारें में जानकारी देते हुए कहा कि सामानांतर टेलीफोन एक्सचेंजों से देश को तीन हजार करो़ड रूपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है. हालाँकि पुलिस मुख्यालय द्वारा केंद्र सरकार को सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया था कि राज्य में चले इस समानांतर टेलीफोन एक्सचेंज के खेल में केंद्र सरकार को 18 हजार करोड़ रुपये की चपत लगी. वहीँ मध्य प्रदेश को दो हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है.

और पढ़े -   शर्मनाक: गरीबी के कारण यूनिफार्म नहीं पहनी तो स्कूल ने किया बच्चियों को सरेआम नंगा

याद रहे इस बात का खुलासा भोपाल से पकड़े गए भाजपा नेता ध्रुव सक्सेना, मनीष गांधी और मोहित अग्रवाल की गिरफ्तारी के बाद हुआ था. इस मामलें में सतना से  बजरंग दल के कार्यकर्ता राजीव और बलराम की भी गिरफ्तारी हुई थी. जो इस पुरे नेटवर्क का मास्टरमाइंड था.

ये सभी टेलीफोन एक्सचेंज के जरिए देश की महत्वपूर्ण सैन्य और सामरिक सुचना पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई को पहुंचा रहे थे.

और पढ़े -   शिवराज के गृहनगर में फिर किसान ने की आत्महत्या, 8 दिनों में 12 किसानों ने दे दी अपनी जान

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE