इलाहाबाद में एक आशिक मिजाज दारोगा को महिला ने घंटों घर के भीतर बंधक बनाये रखा. इतना ही नहीं महिला के पति ने पूरे मामले की वीडियो क्लिपिंग भी बना ली. इस बीच दारोगा को छुड़ाने के लिए दो थानों की पुलिस मौके पर पहुंची. तब कहीं जाकर दारोगा जी को महिला के घर से वापस लाया जा सका.

महिला ने दारोगा पर छेड़छाड़ और गलत नीयत से आधी रात को घर में आने का आरोप लगाया है. उधर दारोगा ने सफाई दी है कि महिला ने उसे सट्टा पकड़वाने के बहाने घर के भीतर बुलाया और गेट में ताला जड़ दिया. हालांकि दारोगा जी इस बात की सफाई नहीं दे सके कि आधी रात को वह बिना वर्दी और फोर्स लिये महिला के घर में कैसे दाखिल हो गये.

और पढ़े -   उद्धव की बीजेपी को धमकी - '1 मिनट का भी वक्त नहीं लगेगा महाराष्ट्र की सरकार गिराने में'

आशिक मिजाज दारोगा को महिला ने बनाया बंधक, छुड़ाने के लिए पहुंची दो थानों की पुलिस

दारोगा की इस हरकत से पूरा पुलिस विभाग शर्मसार है. आईजी आरके चतुर्वेदी ने मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं. बता दें दारोगा को बंधक बनाया गया अतरसुईया थाना इलाके में जबकि दारोगा करेली थाने में तैनात हैं.

दरअसल अतरसुईया थाना इलाके की रहने वाली यह महिला करेली थाना इलाके के रहने वाले किसी युवक की पैरवी में शाम को थाने गई थी. करेली थाने में दारोगा ने प्रार्थना पत्र और महिला का फोन नम्बर ले लिया था. महिला का आरोप  है कि थोड़ी देर बाद ही दारोगा बार-बार उसे फोन करने लगा. महिला ने दारोगा की नीयत भांप लिया और पूरे मामले की जानकारी पति को दे दी.

और पढ़े -   योगी सरकार और आरएसएस देगी इफ्तार पार्टी, गाय के दूध से खुलवाया जाएगा रोजा

महिला ने दारोगा को सबक सिखाने के इरादे से घर पर बुला कर बंधक बना लिया. उधर पति पूरे मामले की रिकॉर्डिंग करता रहा. बाद में महिला ने सौ नम्बर पर फोन किया तो दोनों थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दारोगा को मुक्त कराया. फिलहाल पूरे मामले की जांच के लिये आईजी ने आदेश दे दिये हैं. (Pradesh18)

और पढ़े -   मुरादाबाद में सीएम योगी को झेलना पड़ा विरोध, दलितों ने लगाए योगी मुर्दाबाद के नारे

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE