रामपुर | रिक्शा चालक ने जौहर ट्रस्ट की ओर से संचालित रामपुर पब्लिक स्कूल की तीसरी शाखा का शिलान्यास किया। इस दौरान नगर विकास मंत्री आजम खां ने घोषणा की कि नये रामपुर पब्लिक स्कूल में रिक्शा चालकों, मजदूरों के बच्चों का दाखिला होगा। महज 20 रुपये की मासिक फीस में अच्छे स्तर की शिक्षा मुहैया कराई जाएगी।
जौहर ट्रस्ट की ओर से संचालित रामपुर पब्लिक स्कूल की तीसरी शाखा की संगे बुनियाद रविवार को सराय गेट रोड पर रखी गई। रविवार को एक समारोह के दौरान रिक्शा चालक अहमद अली मियां ने नगर विकास मंत्री की मौजूदगी में शिलापट से पर्दा उठाया। नगर विकास मंत्री आजम खां ने कहा कि रामपुर का सबसे सस्ता स्कूल आरपीएस होगा।
स्कूल में मजदूर, रिक्शा चालक, ठेली चालकों के बच्चे अच्छी शिक्षा हासिल कर सकेंगे। हर माह पढ़ाई के लिए 20 रुपये फीस देनी होगी। 20 रुपये फीस रखना इसलिए जरूरी है, क्योंकि मजदूरों के अहसास को चोट न पहुंचे। 20 रुपये रोज रिक्शा चालक और मजदूर बीड़ी, पान, सिगरेट में फूंक देते हैं। इतना खर्च अपने बच्चों की तालीम पर खर्च कर सकते हैं। यदि वो बीस रुपये भी खर्च नहीं कर सकते तो उनको बच्चे पैदा करने का कोई हक नहीं है।
आजम खां ने नवाब खानदान पर भी निशाना साधा। कहा कि नवाबी दौर में किसी को पढ़ने का हक नहीं था। दौलत वालों के कब्जे से इस जमीन को आजाद कराया गया है। उन्होंने कहा कि ये स्कूल वर्ल्ड रिकार्ड भी बनाएगा। दो माह में इसे चालू कर दिया जाएगा। लखनऊ में भी गरीबों का स्कूल बनाया जाएगा।
उर्दू अकादमी के चेयरमैन नवाज देबबंदी ने स्कूल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर शहर काजी खुशनूद मियां ने दुआ कराई। पूर्व विधायक अफरोज अली खां, अजहर अहमद खां, सलीम कासिम, अजरा नाज, गुड्डू मसूद, एसके तिवारी, आरपी सिंह, कौशलेंद्र प्रताप यादव आदि मौजूद रहे। संचालन आसिम राजा ने किया। (upuklive)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें