मध्यप्रदेश के मंदसौर में किसान आंदोलन के दौरान की गई पुलिस कारवाई पर कांग्रेस के फायरब्रांड नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए है.

इंदौर में घायल किसानों से मिलने के बाद सिंधिया ने कहा कि मंदसौर में किसानों के साथ पुलिस ने घिनोना व्यवहार किया. पुलिस ने पहले तो सीनों पर गोली मारकर किसानों की जान ले ली. फिर किसानों की लाशों को घसीटकर किनारे किया और उनकी जेब में रखे मोबाइल व पैसे भी गायब कर लिए.

और पढ़े -   भैंस ले जा रहे दो मुस्लिम युवकों की अवैध वसूली का विरोध करने पर पिटाई

उन्होंने कहा, ‘उपज के सही दाम और कर्ज माफी की जायज मांगों को लेकर मंदसौर में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस गोलीबारी से पांच लोगों की मौत शिवराज सरकार के माथे का कलंक है. ऐसा लगता है कि सूबे में हिटलरशाही चल रही है. शिवराज सरकार को सत्ता में रहने का कोई हक नहीं है.

सिंधिया ने कहा, ‘इन लोगों ने मुझे जो आपबीती सुनाई, उसने मुझे झकझोर कर रख दिया. इनका आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने गोलीबारी के बाद उन्हें घसीट कर सड़क से हटाया और उनकी जेब से पैसे व मोबाइल निकाल लिए.

और पढ़े -   चोटी काटने का आरोप लगाकर भिखारियों को पीटा, महिला की मौत और बच्चा जख्मी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE