kis

मुंबई: महाराष्ट्र में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा हैं. कर्ज के बोझ तले कई किसानों ने अपनी जीवनलीला को समाप्त कर लिया हैं.

अब फिर से अकोला के उमरा गांव  में एक 77 साल के किसान ने खुदकुशी कर ली. श्रीराम येउल नाम का ये शख्स कर्ज के बोझ से काफी परेशान थे, इसलिए श्रीराम ने जहर पीकर जान दे दी. जान देने से पहले लिखे सुसाइड नोट में उन्होंने जान देने को वजह कर्ज को बताया.

और पढ़े -   योगी राज: गरीब और कुपोषित बच्चों का मिड-डे मील गायों को खिलाया जा रहा

श्रीराम येऊल की खेती 12 एकड़ में थी, लेकिन 3 साल के कम बरसात और इस साल ज्यादा बरसात से पूरी फसल चौपट हो गई. हालाँकि इस बार फसल अच्छी हुई तो सोयाबीन को सही दाम भी नहीं मिला.

येउल पर ग्रामीण बैंक से 2 लाख 10 हजार का कर्ज लिया था,जो सूद समेत 3 लाख हो गया था. जिसको चूका न पाने की असमर्थता से उन्हें आत्महत्या करना पड़ा.

और पढ़े -   मोदी सरकार ने दी हजारों चकमा और हजोंग शरणार्थियों को नागरिकता, जल उठा अरुणाचल प्रदेश

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE