केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने महाराणा प्रताप की मुग़ल सम्राट अकबर से तुलना करते हुए सवाल उठाया कि अगर अकबर महान थे तो महाराणा प्रताप क्यों नहीं हो सकते. उन्होंने कहा, प्रताप को इतिहास में वो स्थान नहीं मिला जो उन्हें मिलना चाहिए था.

मंगलवार को पाली जिले में मेवाड़ के राजा की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए राजनाथ ने कहा, ‘वो महाराणा प्रताप ही थे जो आजादी और खुद के सम्मान के लिए वीरता के साथ लड़े. इस लड़ाई में उन्होंने अपना सब कुछ त्याग दिया लेकिन अकबर के आगे हार नहीं मानी.

उन्होंने आगे कहा, मगर मुझे आश्चर्य है कि कैसे हमारे इतिहासकारों ने अकबर को महान बना दिया जबकि प्रताप को नहीं, उन्हें प्रताप में ऐसी कौन सी कमी नजर आई कि उन्होंने प्रताप को महान नहीं माना.

सिंह ने कहा कि बहुत से लोगों ने प्रताप से आजादी की प्रेरणा लेकर 1947 में भारत को आजादी दिलाने में भूमिका निभाई. वहीं, पाकिस्तान को सख्त संदेश देते हुए गृहमंत्री ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो भारत दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE