अहमदाबाद  पटेलों को वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल करने का बीजेपी पर आरोप लगाते हुए जेल में बंद हार्दिक पटेल ने मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल को एक चिट्ठी लिखकर सवाल पूछा है कि क्या वह इसी समुदाय से हैं।

सूरत जेल से भेजे गए अपने पत्र में हार्दिक ने यह आरोप भी लगाया है कि वह झुकने से इनकार करने वाले कई नेताओं को पार्टी दरकिनार कर रही हैं। हार्दिक ने बीजेपी सरकार की तुलना ब्रिटिश शासकों से की। उन्होंने कहा कि बीजेपी ‘ठगों’ की पार्टी है। उन्होंने कहा कि हम पाटीदार इंसाफ पाने के लिए किसी भी पार्टी का सपॉर्ट लेने को तैयार हैं, चाहे वह कांग्रेस, आम आदमी पार्टी या एनसीपी हो।
हार्दिक पटेल

हार्दिक ने अपनी चिट्ठी में लिखा,’आज जब आरक्षण के इस आंदोलन में 10 पाटीदार युवक मारे गए और उनमें से कइयों ने पढ़ाई छोड़ दी, फिर भी आप हमारी बात सुनने को तैयार नहीं हैं। आप न हमारी आरक्षण की मांग सुनते हैं और न रोजगार और शिक्षा की। जब किसानों ने अपना हक मांगा तब बीजेपी सरकार ने नहीं सुना। बीजेपी सरकार ने पटेल समुदाय का इस्तेमाल किया है।’
हार्दिक ने कहा है, ‘एक कार्यक्रम में आपके भाषण के दौरान, कुछ दिन पहले, आपने कहा कि पटेल स्वार्थी और चोर हैं। अब मुझे शक है कि क्या आप सचमुच में पटेल समुदाय से हैं। किस आधार पर आपने पटेलों को स्वार्थी और चोर कहा?’

हार्दिक ने पत्र में लिखा है, ‘यह वही पटेल समुदाय है जिसने गुजरात में पिछले 30 साल से बीजेपी को अपना आधार बनाने के लिए समर्थन किया है। हमने आपको वोट और पैसा दिया। बीजेपी हमारे समर्थन से सत्ता में आई।’

हार्दिक की यह चिट्ठी उनके वकील ने मीडिया को दिखाई। हार्दिक देशद्रोह के दो मामलों में सितंबर से जेल में हैं। हार्दिक ने कहा, ‘पटेल बीजेपी की जागीर नहीं है, इसलिए हमारा दमन नहीं करें। हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आरक्षण की हमारी मांग का समर्थन करें, नहीं तो हमारा आंदोलन गुजरात के राजनीतिक दृश्य को बदल कर रख देगा।’ साभार: नवभारत टाइम्स


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें