badmer

राजस्थान के बाड़मेर जिले में पाकिस्तान बॉर्डर से लगते कई गाँवों में हिन्दू समुदाय के लोग भी रमजान के इस पाक महीने में रोजा रखते हैं और सामूहिक रूप से इफ्तार भी करते हैं. हिन्दू भाइयों का रोजें रखना कोई नई बात नहीं हैं. यहाँ पर हिन्दू समुदाय के लोग कम से कम पांच रोजे रखते हैं.

गोहड़ का तला निवासी प्राचार्य डॉ. मेघाराम गढ़वीर के अनुसार “सीमावर्ती गांवों मे मुस्लिम हिन्दूओं के त्योहार पूरे हर्ष और उल्लास के साथ मनाते हैं, वहीं हिन्दू परिवार भी रमजान के पवित्र महीने मे रोजे रखकर मुस्लिम भाईयों की खुशी मे शामिल होते हैं”

इस इलाके में मेघवाल जाति के लोग काफी अच्छी तादाद में हैं जो पाकिस्तान के सिंध प्रान्त के  महान संत पीर पिथोरा को मानते हैं. शंकराराम मेघवाल के अनुसार “हम सिंधी, मुसलमान पीर पिथोरा के प्रति समान आस्था रखते हैं. पीर पिथोरा के जितने भी अनुयायी हैं, वे रमजान में रोजे रखते हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें