फरीदाबाद। देश में असहिष्णुता की अटकलों के बीच फरीदाबाद के ददसिया गांव ने हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल पेश की है। यहां मुस्लिमों के लिए छोटी पड़ रही मस्जिद के लिए दीपक त्यागी नाम के शख्स ने अपनी जमीन दान कर दी तो मंदिर के पुजारी पंडित सत्यनारायण ने नींव की ईंट रखकर निर्माण कार्य शुरू करवाया।

मस्जिद के लिए जमीन दान करने वाले दीपक त्यागी ने बताया कि गांव में मुस्लिमों की एक ही मस्जिद होने की वजह से इबादत की जगह छोटी पड़ने लगी थी। मस्जिद से सटी हुई उनकी जमीन होने की वजह से गांव के मुस्लिम भाई उनसे मिलने आए और उनके सामने जमीन बेचने का प्रस्ताव रखा। पुण्य का काम मानते हुए अपने पिता स्व. वेदप्रकाश त्यागी की स्मृति में उन्होंने मस्जिद को सौ गज जमीन दान कर दी।

मंगलवार को इस जमीन पर गांव के पुजारी पंडित सत्यनारायण मिश्रा और मस्जिद के मौलवी कारी उस्मान ने मिलकर चारदीवारी का शिलान्यास किया। इस दौरान हिंदू भाइयों ने सौभाग्य का प्रतीक शंखनाद किया तो मुस्लिम भाइयों ने अल्लाह से देश में भाईचारा और शांति की दुआ की।

पंडित सत्यनारायण मिश्रा कहते हैं कि ददसिया गांव में कौन हिंदू है कौन मुसलमान पता ही नही चलता, क्योंकि यहां का मुस्लिम बच्चा, जवान, बूढ़ा व औरतें सभी राम राम कहते हुए मिलते हैं। साभार: jagran


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें