सहारनपुर: ‘भारत माता की जय’ बोलने ना बोलने को लेकर चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। इस्लामिक शिक्षण संस्था दारुल उलूम देवबंद की ओर से ‘भारत माता की जय’ बोलने के खिलाफ जारी किए गए फतवे के बाद अब हिंदूवादी संगठन इसके विरोध में उतर आए हैं।

अब हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों ने फतवा जारी करने वाले मुफ्तियों के खिलाफ कोतवाली में तहरीर देकर एक नई जंग का आगाज कर दिया है। हिंदूवादी संगठनों ने फतवे को देश की अखंडता के खिलाफ बताते हुए मुफ्तियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

और पढ़े -   योगी सरकार ने अब बरेली और कानपुर एयरपोर्ट के नाम बदले

फतवा को बताया असंवैधानिक
शनिवार को बजरंग दल के प्रांत सुरक्षा प्रमुख विकास त्यागी, बीजेपी देहात मंडल अध्यक्ष पंकज त्यागी सहित अन्य हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों ने कोतवाली में तहरीर दी। जिसमें कहा गया है कि दारुल उलूम के मुफ्तियों द्वारा धर्म विशेष के लोगों को ‘भारत माता की जय’ ना बोलने का फतवा देश के संविधान का उल्लंघन है।

और पढ़े -   बीजेपी से गठबंधन टूटने की ख़ुशी में NPF ने दी कार्यकर्ताओं को बीफ पार्टी

देशवासियों को पहुंचा आघात
तहरीर में ये भी कहा कि मुफ्तियों के इस फतवे से केंद्र व राज्य सरकार समेत हिंदुस्तान की जनता को गहरा आघात पहुंचा है। इसके अलावा देश के लोगों की धार्मिक भावना आहत हुई है।

भारत माता का अपमान बर्दाश्त नहीं
विकास त्यागी के मुताबिक दारुल उलूम के मुफ्तियों के इस फतवे से देश की एकता और अखंडता खतरे में पड़ गई है। देश की जनता भारत माता का अपमान किसी भी सूरत में सहन नहीं कर सकती है।

और पढ़े -   तमिलनाडु: कर्ज में डूबे किसान कर रहे आत्महत्या, विधायकों की सैलरी हुई दोगुनी

विशेषज्ञों की राय के बाद ही होगी कार्रवाई
कोतवाली प्रभारी विजय प्रकाश सिंह ने बताया कि फतवे के संबध में विशेषज्ञों की राय के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

दारुल उलूम के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी फतवे को चुनौती देते हुए हिंदूवादी संगठनों ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। (newztrack.com)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE