सहारनपुर: ‘भारत माता की जय’ बोलने ना बोलने को लेकर चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। इस्लामिक शिक्षण संस्था दारुल उलूम देवबंद की ओर से ‘भारत माता की जय’ बोलने के खिलाफ जारी किए गए फतवे के बाद अब हिंदूवादी संगठन इसके विरोध में उतर आए हैं।

हिंदूवादी संगठनों ने दी तहरीर, कहा- मुफ्तियों के खिलाफ हो कार्रवाई

अब हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों ने फतवा जारी करने वाले मुफ्तियों के खिलाफ कोतवाली में तहरीर देकर एक नई जंग का आगाज कर दिया है। हिंदूवादी संगठनों ने फतवे को देश की अखंडता के खिलाफ बताते हुए मुफ्तियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

फतवा को बताया असंवैधानिक
शनिवार को बजरंग दल के प्रांत सुरक्षा प्रमुख विकास त्यागी, बीजेपी देहात मंडल अध्यक्ष पंकज त्यागी सहित अन्य हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों ने कोतवाली में तहरीर दी। जिसमें कहा गया है कि दारुल उलूम के मुफ्तियों द्वारा धर्म विशेष के लोगों को ‘भारत माता की जय’ ना बोलने का फतवा देश के संविधान का उल्लंघन है।

देशवासियों को पहुंचा आघात
तहरीर में ये भी कहा कि मुफ्तियों के इस फतवे से केंद्र व राज्य सरकार समेत हिंदुस्तान की जनता को गहरा आघात पहुंचा है। इसके अलावा देश के लोगों की धार्मिक भावना आहत हुई है।

भारत माता का अपमान बर्दाश्त नहीं
विकास त्यागी के मुताबिक दारुल उलूम के मुफ्तियों के इस फतवे से देश की एकता और अखंडता खतरे में पड़ गई है। देश की जनता भारत माता का अपमान किसी भी सूरत में सहन नहीं कर सकती है।

विशेषज्ञों की राय के बाद ही होगी कार्रवाई
कोतवाली प्रभारी विजय प्रकाश सिंह ने बताया कि फतवे के संबध में विशेषज्ञों की राय के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

दारुल उलूम के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी फतवे को चुनौती देते हुए हिंदूवादी संगठनों ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। (newztrack.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें