श्रीनगर गढ़वाल। श्रीनगर गढ़वाल के पराग डेरी स्थित कब्रिस्तान और बगलामुखी मंदिर जाने वाले पुराने रास्तों और पार्किंग स्थल पर अवैध कब्जेधारियों ने अतिक्रमण कर उन्हें बंद कर दिया है। हालत यह है कि जिस रास्ते पर बड़े चौपहिया वाहन गुजरा करते थे वहां अब दोपहिया वाहन भी नहीं गुजर पा रहे हैं।

यह नजारा है रुद्रप्रयाग, चमोली और श्रीनगर के सामूहिक कब्रिस्तान को जाने वाले रास्ते का जिसमें कुछ वर्षों पूर्व तक भारी वाहन आसानी से चला करते थे लेकिन प्रशासन की बेरुखी और अतिक्रमणकारियों ने इस मार्ग को दुपहिया वाहन के आने जाने तक भी नहीं छोड़ा, कब्रिस्तान और मंदिर तक पहुंचने वाले रास्तों की जमीन पर या तो मनमाने तरीके से कब्जेधारियों ने मकान बना दिये हैं तो कहीं कब्जा कर इतना संकरा बना दिया गया है कि पैदल चलना भी मुश्किल है। इतना ही नहीं कब्रिस्तान की भूमि पर भी अवैध कब्जा किया जा रहा है।

स्थानीय नागरिकों ने जहां तहसील प्रशासन पर सहयोग न करने का आरोप लगाया है वहीं प्रशासन का कहना है कि यह रास्ता तीन गावों से लगता है जिसको लेकर तहसीलदार को जांच हेतु निर्देश दिए हुए लिहाजा फोरी तौर पर रास्ते पर किए गए कब्जे को खुलवाया जाएगा।

आपको बता दें कि अतिक्रमण के मामला श्रीनगर में प्रशासन के लिए सिर दर्द बना हुआ है लेकिन कब्रिस्थान और मंदिर के आम रास्ते का जिस तरह यह मामला सामने आया है, तो यह प्रशासन के लिए और ज्यादा चुनौतिया पैदा कर सकता है, उम्मीद की जानी चाहिए कि प्रशासन ऐसे अवैध कब्जेधारियों पर शिकंजा कस ठोस कार्रवाही करे ताकि बची खुंची भूमि को बचाया जा सके। (indiavoice)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें