hijab_0

कर्नाटक के उच्च शिक्षा मंत्री बसवराज रायारद्दी ने संघ परिवार द्वारा हिजाब पर प्रतिबंध लगाने की मांग की निंदा करते हुए कहा कि हिजाब को एक संस्कृति बताते हुए कहा कि हिजाब सिर्फ किसी एक धर्म तक सीमित नहीं हैं.

राज्य सरकार द्वारा एक आयोजित समारोह में उन्होंने कहा, भारतीय संविधान में बुर्का या हिजाब पर कोई प्रतिबंध नहीं है. उन्होंने कहा हिजाब एक संस्कृति है. कोई भी हिजाब या बुर्का पहन सकता हैं. उन्होंने आगे कहा, ऐसा कोई क़ानून तो है नहीं कि हिन्दू इसे नहीं पहन सकते.

और पढ़े -   जीप के आगे बांधे जाने पर मेजर गोगोई के खिलाफ मानवाधिकार आयोग में शिकायत

याद रहें कि कुछ महीने पहले कर्नाटक के कुछ प्राइवेट कॉलेज में मुस्लिम लड़कियों के बुर्का और हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. कॉलजों के ऐसे कदम की आलोचना करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस तरह के मामलों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

अगस्त में एक फार्मेसी कॉलेज ने कक्षाओं के अंदर छात्राओं के हिजाब पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया था. बाद में, छात्रों द्वारा एक विरोध प्रदर्शन के बाद इस निर्णय को रद्द कर दिया गया था.

और पढ़े -   एक बार फिर से जातीय हिंसा की आग में दहला सहारनपुर, गोली लगने से एक की मौत 11 घायल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE