पिंक सिटी जयपुर में 19 मार्च को कथित गौरक्षकों ने होटल हयात रब्बानी मे चिकन को बीफ का नाम देकर जम कर हंगामा मचाया था. और होटल के कर्मचारियों के साथ मारपीट की थी. जिसके बाद नगर निगम ने भी भगवा गुंडों के आगे घुटने टेकते हुए होटल को सील कर दिया था.

हंगामे के दौरान पुलिस ने मांस का सैंपल जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा था, अब जांच रिपोर्ट आ गई है जिसमे यह साफ़ हो गया है कि वह मांस बीफ़ का नहीं, बल्कि चिकन का था. राजस्थान पुलिस के डिप्टी कमिशनर अशोक गुप्ता ने हिन्दुस्तान टाइम्स को बताया कि रब्बनी होटल से बरामद मांस को जांच के लिए फॉरेंसिक साइंस लैबोरेटरी भेजा गया था. अब जांच रिपोर्ट में सामने आया कि वह बीफ नहीं था.

और पढ़े -   भाजपा महिला नेता की गुंडई, काम को लेकर की आलोचना तो युवक को सरेआम पीटा

रिपोर्ट आने के बाद होटल मालिक नईम रब्बनी ने कहा, मैं तो पहले दिन से ही कह रहा हूँ कि मेरे यहां से लिया गया मांस बीफ नहीं बल्कि चिकन था, लेकिन पुलिस और प्रशासन ने मेरी एक नहीं सुनी. उसी दिन से उनका होटल सील है.

उन्होंने आगे कहा, क्षेत्र में प्रसिध नॉनवेज होटल होने के कारण उनके होटल को सुनियोजित तरीके से बंद कराया गया है. इसके लिए बीफ का बहाना बना कर गौरक्षकों की मदद ली गई.

और पढ़े -   दूसरी शादी के लिए धर्मपरिवर्तन को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ग़ैरक़ानूनी करार दिया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE