school-7591

अहमदाबाद: गुजरात बोर्ड की लापरवाही का चेहरा एक बार फिर सामने आया हैं. इस बार बोर्ड ने ईद के दिन परीक्षा लेने का फैसला किया हैं. जिसके बाद बोर्ड के खिलाफ मुस्लिम समुदाय विरोध में उतर आया हैं.

बोर्ड ने दसवी और बाहरवीं की पूरक परीक्षा आयोजित की जिसकी तारीख भी निर्धारित कर दी गई हैं. 7 जुलाई को गुजरात बोर्ड द्वारा दसवीं और बारहवीं में तीन और उससे कम विषयों में फेल हुए छात्रों के लिए परीक्षा रखी गई है. लेकिन 7 जुलाई को ईद भी हो सकती हैं.

गौरतलब रहें कि ईद के पर्व का निर्धारण चाँद दिखने पर होता हैं. यदि 29 रमज़ान को चाँद नजर आ जाता हैं तो  6 जुलाई को ईद मनाई जायेगी और यदि 30 रमजान को चाँद दिखाई देता हैं तो 7 जुलाई को ईद होगी. ऐसे में मुस्लिम छात्रों के सामने मुश्किल आ गई हैं.

गुजरात बोर्ड के परीक्षा कार्यक्रम को देखकर लगता है कि बोर्ड ने परीक्षा तारीखें तय करने से पहले ईद के पर्व की संभावित तारीखों पर गौर नहीं किया हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें