164 साल पुराने जिस एल्‍फ्रेड हाई स्‍कूल से राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी ने शिक्षा हासिल की थी, उसे अब बंद कर दिया गया. स्‍कूल में पढ़ रहे सभी 150 छात्रों को लीविंग सर्टिफिकेट भी दे दिए गए हैं.

स्कूल ने ये फैसला राज्‍य सरकार द्वारा इस स्‍कूल को म्यूजियम में बदलने को लेकर दिये आदेश जे बाद लिया हैं. इस संबंध में शिक्षा विभाग ने बीते साल एक नोटिफिकेशन जारी कर सूचित किया था. इस स्‍कूल का निर्माण ब्रिटिश काल में हुआ था. यह इस क्षेत्र का पहला इंग्लिश स्‍कूल भी हुआ करता था.

और पढ़े -   राष्ट्रगान ना गाने पर योगी सरकार करेगी मदरसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई

इसका ऑरिजनल नाम राजकोट इंग्लिश स्‍कूल है. इसे 17 अक्‍टूबर, 1853 में स्‍थापित किया गया था. 1868 से इसे राजकोट हाई स्‍कूल के नाम से जाना जाने लगा और फिर 1907 में एलफ्रेड हाई स्‍कूल के नाम से. 1947 में आजादी मिलने के बाद इसका नाम ‘मोहनदास गांधी हाईस्‍कूल’ कर दिया गया. गांधी जी ने 1887 में 18 साल की उम्र में इस स्‍कूल से ग्रेजुएट किया था.

और पढ़े -   देखे वीडियो: खरगौन में हुआ स्वतंत्रता दिवस का अपमान, तिरंगा के बजाय फहराया भगवा

अब राज्‍य सरकार 12 करोड़ रुपए खर्च कर यहां म्‍यूजियम बनाएगी. वहीं स्‍कूल में पढ़ रहे छात्रों को करणसिंहजी हाई स्‍कूल में शिफ्ट किया जाएगा.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE