अहमदाबाद: गुजरात सरकार के परिवहन मंत्री एवं बीजेपी प्रदेश इकाई प्रमुख विजय रूपानी ने अहमदाबाद में घोषणा करते हुवे कहा कि जैन समुदाय को अल्पसंख्यक दर्जा प्रदान कर दिया गया हैं। रूपानी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने शनिवार को जैन समुदाय को अल्पसंख्यक दर्जा प्रदान करने का निर्णय किया।

रूपानी स्वयं में एक जैन है। उन्होंने कहा, ‘एक सरकारी प्रस्ताव शनिवार को जारी किया गया।’ उन्होंने कहा कि निर्णय अभी तक इसलिए लंबित था, क्योंकि जैन समुदाय का एक बड़ा वर्ग यह महसूस करता था कि समुदाय के कई रीति रिवाज हिंदुओं जैसे हैं इसलिए जैन हिंदू समुदाय का हिस्सा है और उनसे अलग व्यवहार नहीं होना चाहिए।’

और पढ़े -   योगी राज: गरीब और कुपोषित बच्चों का मिड-डे मील गायों को खिलाया जा रहा

उन्होंने कहा, ‘निर्णय का आरक्षण से कोई लेना देना नहीं है। दर्जे से जैन समुदाय में गरीबों को लाभ होगा, क्योंकि वे विभिन्न छात्रवृत्ति, सरकारी कल्याण योजनाओं से लाभ उठा सकते हैं। जैन संस्थानों को विशेष दर्जा मिलेगा, जैसे ईसाई और मुस्लिम संस्थानों को मिलता है।’

गोरतलब रहे कि 2014 में  पूर्व यूपीए सरकार ने जैन समुदाय को राष्ट्रीय स्तर पर अल्पसंख्यक दर्जा प्रदान किया था।

और पढ़े -   गांधी जिस अंतिम आदमी की बात करते थे वह आज भी उतना ही जूझ रहा है

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE