Pradesh18 न्यूज़ पोर्टल पर छपी खबर के अनुसार मध्यप्रदेश के सीहोर जिले के अजमतनगर गांव के सूरज सिंह गुर्जर के बेटे नेम सिंह गुर्जर की 27 अप्रैल को बारात लेकर पास के ही गांव महुआखेड़ा जाना है. सूरज सिंह अपनी बहू को हेलीकॉप्टर से लाना चाहते हैं. इसके लिए उन्होंने प्रशासन को आवेदन दिया है कि ताकि उन्हें हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने की अनुमति मिल जाए. लेकिन सूरज सिंह के आवेदन के आधार पर जब हेलीकॉप्टर की अनुमति से पहले प्रशासनिक अधिकारियों का एक दल भौतिक सत्यापन के लिए उनके घर पहुंचा, तो उन्हें पता चला कि सूरज के घर में शौचालय ही नहीं है.

सरकार के रिकॉर्ड में गरीब, घर में शौचालय तक नहीं और चले हेलीकॉप्टर से लाने दुल्हनियां

नायब तहसीलदार कुलदीप दुबे ने सूरज सिंह से कहा कि शौचालय बनने पर ही हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने की अनुमति दी जाएगी. इस पर सूरज ने अपने घर में शौचालय का निर्माण शुरू करा दिया है, लिहाजा शौचालय बनने पर वे अपनी रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेजेंगे.

अजमतनगर गुर्जर बहुल ग्राम है, यहां की आबादी एक हजार है और लगभग 100 मकान हैं. यह पहला मौका होगा, जब किसी परिवार ने हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने के लिए आवेदन दिया हो.

हैरानी की बात ये है सूरज के परिवार का गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) का कार्ड बना हुआ है. ऐसे में हेलीकॉप्टर से बारात ले जाने का आवेदन आने के बाद प्रशासन ने उसके बीपीएल कार्ड की जांच भी शुरू करा दी है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें