पटना बिहार सरकार एक महीने का विशेष अभियान चलाकर 1,292 मुस्लिम तलाकशुदा महिलाओं को 10 हजार रुपये का भत्ता देने जा रही है। यह पैसा वक्फ बोर्ड के जरिये महिलाओं तक पहुंचाया जाएगा। ये वैसी महिलाएं हैं जिन्हें उनके लिए राशि आवंटित होने के बाद भी अभी तक भत्ता नहीं मिल सका है। इस बारे में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफ्फूर ने विधानसभा में जानकारी दी। सोमवार को वह सरकार की ओर से राष्ट्रीय जनता दल के सदस्य नेमातुल्लाह द्वारा दिए गए एक नोटिस का जवाब दे रहे थे। प्रदेश सरकार ने साल 2014-15 के बजट में हर मुस्लिम तलाकशुदा महिला को गुजारे के तौर पर 10,000 का भत्ता दिए जाने के लिए 2 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की थी।

भत्ते की यह राशि वक्फ बोर्ड के माध्यम से आवंटित की जाएगी (प...नेमातुल्लाह ने दावा किया कि यह गुजारा भत्ता पाने के लिए जहां पांच हजार आवेदन आए, वहीं इनमें से केवल 1,169 को ही पैसा दिया गया। उन्होंने कहा कि 2 करोड़ की राशि में से 83 लाख रुपये अभी तक खर्च नहीं किए गए हैं। वहीं दूसरी ओर प्रदेश सरकार ने 2015-16 के बजट में भी इस मद के लिए 2 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की थी। इसका जवाब देते हुए मंत्री गफ्फूर ने कहा, ‘सरकार को प्राप्त कुल आवेदनों में से 2,461 के दावों को ही पुलिस की जांच में सही पाया गया। इसके बाद 3,742 दावों को खारिज कर दिया गया।’

गफ्फूर ने यह भी कहा कि सही तरह से किए गए कुल 2,461 दावों में से 1,169 को पैसा दे दिया गया है। वहीं बाकी के 1,292 प्रत्याशियों को भी जल्द ही तय रकम दे दी जाएगी। (NBT)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें