kalb

सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद आजाद के इस बयान से गहरा आघात पहुंचेगा जिसमे उन्होंने समाजवादी पार्टी को छोड़कर और किसी भी राजनीतिक पार्टी को समर्थन करने की बात करते हुए कहा कि मौजूदा अखिलेश सरकार सिर्फ गुंडागर्दी की पहचान बनी हुई है.

कल्बे जव्वाद आजाद ने शनिवार को शहान-ए-अवध ट्रस्ट की ओर से वक्फ संपत्तियों की बर्बादी रोकने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि शिया समुदाय मुलायम की समाजवादी पार्टी को छोड़कर और किसी भी राजनीतिक पार्टी को समर्थन कर सकता है लेकिन वो किसी भी कीमत पर सपा के साथ नहीं जाएगा.

और पढ़े -   गुजरात: फिर सामने आया ऊना कांड, दलित युवक और महिला की नग्न कर पिटाई

उन्होंने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि शिया समुदाय के लोगों का विकास नहीं चाहती है यही वजह है कि हमारी अनदेखी की जा रही है लेकिन सरकार की ये यह आदत अब बर्दाश्त से बाहर हो गई है. मौलाना के मुताबिक सपा ने ही अजादारी रोड पर मोहर्रम के दौरान काले झंडे व मजलिसों के बैनर लगाने पर रोक लगाने का काम किया है.

और पढ़े -   राष्ट्रगान ना गाने पर योगी सरकार करेगी मदरसों पर एनएसए के तहत कार्रवाई

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE