Muslim woman

केरल के एर्नाकुलम में पड़ने वाली इंजीनियरिंग छात्रा अपर्णा के इस्लाम अपनाने के मामलें की हकीकत सामने आ गई हैं. अपर्णा ने बिना किसी दबाव के इस्लाम धर्म अपनाया हैं. हालांकि अपर्णा की माँ ने अर्पणा को जबरदस्ती मुसलमान बनायें जानें का आरोप लगाया था.

2013 को अपर्णा केरल के एर्नाकुलम में जुआल एजुकेशन ट्रस्ट में पढने गयी. अपर्णा इस कॉलेज के हॉस्टल में रहती थी. अचानक से एक दिन खबर आई की अपर्णा गायब हो गयी है. अपर्णा की माँ ने पुलिस में जाकर शिकायत दर्ज करायी. जांच करने पर अपर्णा की लोकेशन कोझिकोड में स्थित सत्य सारिणी इंस्टिट्यूट में मिली.

पुलिस ने अपर्णा को सत्य सारिणी इंस्टिट्यूट से बरामद कर अदालत में पेश किया. हैमगर कोर्ट में अपर्णा ने अदालत के सामने कहा कि उसने अपनी इच्छा से इस्लाम धर्म अपनाया हैं और उसने  मुस्लिम बनने के बाद अपना नाम शहाना रख लिया हैं. साथ ही अर्पणा ने अदालत में घरवालो के साथ जाने से इनकार कर दिया हैं.

अपर्णा की माँ के अनुसार उसने अदालत में बताया की उसने इस्लाम धर्म कबूल कर लिया है और वो अब इन्ही लोगो के साथ रहना चाहेगी. अपर्णा की माँ ने आरोप लगाया की एक सौम्या नाम की औरत ने मेरी बेटी को बहला फुसला कर इस्लाम कबूल कराया.

पुलिस ने बताया की अपर्णा फ़िलहाल एक धार्मिक सेण्टर में रह रही है. अब मामला हमारे पास नही है. क्योकि अपर्णा ने खुद उन लोगो के साथ रहने की मांग की है इसलिए हम उसे उसकी माँ को नही सौप सकते.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें