kkkgghh_1460754409

संगरूर। गौहत्या को लेकर पिछले दिनों राजनीति काफी गर्म रही थी यहाँ तक की दादरी के अखलाक की हत्या की गौमांस रखने के कारण हुई यहाँ तक की भाजपा तथा संघ से जुड़ें कुछ नेताओं ने गौहत्या पर फांसी तक की मांग कर डाली थी जगह जगह नए नए गौरक्षक दल जन्म लेने लगे जिनका काम गाय की हिफाज़त करना था लेकिन पंजाब में जो मामला संज्ञान में आया है वो गौरक्षक भक्षक बनकर बूचडखाना चला रहा थे पंजाब के संगरूर में गो रक्षक बनकर लोगों से 20 किलो गेहूं और 1 क्विंटल भूसी लेने वाला शख्स कई साल से अपने घर के पिछले हिस्से में बूचड़खाना चला रहा था। यहां से मांस उत्तर प्रदेश भेजा जाता था। पुलिस को कई साल से चल रहे अवैध कारोबार की भनक तक नहीं लगी। गोरक्षा दल की पुख्ता खबर के बाद पुलिस ने गुरुवार देर रात छापेमारी कर मांस और जमीन में दबाए गए गो अवशेष बरामद किए।

12 लोग खा रहे थे बूचड़खाने की कमाई

ऐसा नही की अकेला आरोपी ही इस घिनौने अपराध में लिप्त था उसके साथ पूरा रक्षादल गौ हत्याओं की कमाई खा रहा था इस मामले में 50 वर्षीय मुख्य आरोपी समेत 6 लोगाें को अरेस्ट किया गया है जबकि 5 अभी भी फरार हैं। गोरक्षा दल के सतीश कुमार ने बताया कि उनको पता चला था कि संगरूर जिले में बूचड़खाना चलाया जा रहा है। 40 सदस्यीय टीम लेकर वह शाम 7 बजे पहुंचे और रात 12 बजे लोकेशन कन्फर्म होने पर एसएसपी को सूचित किया। इसके बाद 3 एसएचओ ने भारी पुलिस बल के साथ रेड की तो मामला साफ हाे गया। घर के फ्रिज खुला तो लोगों के होश उड़ गए, उसमें भी मास बरामद हुआ।  उसके खेत में 10-15 गाय- बैल हमेशा बंधे रहते थे। मकान के पिछले हिस्से में बूचड़खाना होने के कारण किसी को शक नहीं हुआ।

गांववालों का कहना है कि वह कभी सोच भी नहीं सकते थे कि आरोपी इतना घिनौना काम करता होगा। गोरक्षा दल का दावा है कि पिछले 4 साल में डेढ़ हजार से ज्यादा पशुओं का कत्ल किया गया।  लोगों ने मामले की निष्पक्ष जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

मांस भिजवाकर अवशेष ज़मीन में दबा देते थे

मामले में 6 आरोपियों को अरेस्ट किया गया है, जबकि पांच आरोपियों की अभी तलाश की जा रही है। आरोपी ने घर को दो हिस्सों में बांटा हुआ था। अगले हिस्से में दो कमरे रहने के लिए बनाए थे और पिछले हिस्से में बूचड़खाने का अवैध कारोबार चलता था।  आशंका है कि बाहर से कुछ लोगों की टीम घर में आती थी और पशुओं को काटकर मांस ले जाती थी। अवशेषों को जमीन में गड्ढे खोदकर दबा देते थे।

मामला संवेदनशील देख एसएसपी प्रीतपाल सिंह 22 एसएचओ, 7 डीएसपी और भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।  2 जेसीबी मशीनों ने जहां भी खुदाई की, वहीं से पशुओं के अवशेष मिले। 400 गज में बने घर को गिरा दिया गया है।  पशु चिकित्सक माहिरों के सैंपल मिलने के बाद अवशेषों को उसी जमीन में दबा दिया गया। आरोपी के घर से मांस के 10 सैंपल लेकर जालंधर स्थित लैब में जांच के लिए भेजे गए हैं।

News Courtesy – Bhaskar


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें