लखनऊ। आपने इंसानी दरिंदगी के कई दिल दहलाने वाले किस्से सुने होंगे। लेकिन लखनऊ में इंसानों ने जो हैवानियत दिखाई है उसे सुनकर आपकी रूह कांप उठेगी। एक छात्रा अपने घर से स्कूल के लिए निकली थी। लेकिन ना तो स्कूल पहुंची और ना ही लौटकर घर आई। कई दिन बाद जब उसकी लाश मिली तो पोस्मॉर्टम करने वाले डॉक्टर भी दहल गए। क्योंकि उस लड़की की लाश के साथ भी बलात्कार हुआ था।

हत्या के बाद छात्रा की लाश के साथ भी किया बलात्कार!

लखनऊ में मुख्यमंत्री के घर के बेहद नजदीक छात्रा का शव मिला तो पुलिस में हड़कंप मच गया। लेकिन अब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने जो खुलासा किया है वो दिल दहलाने वाला है। पुलिस को इस बात के सबूत मिले हैं कि हत्या के बाद कुछ हैवानों ने लाश के साथ भी बलात्कार किया था। पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें दो रिक्शा चालक और गोल्फ क्लब के दो कैंडी शामिल हैं। जिन दो रिक्शे वालों को गिरफ्तार किया गया है उनमें से एक के पास छात्रा का मोबाइल जबकि दूसरे के पास से छात्रा का ब्लेजर बरामद हुआ था। पुलिस अब इनका नार्को और पॉलीग्राफिक टेस्ट कराने की तैयारी में है।

और पढ़े -   कानून व्यवस्था को लेकर हाई कोर्ट ने लगाई योगी सरकार को फटकार, कहा - अपराधियों को करे नियंत्रित

आपको बता दें बारहवीं की ये छात्रा 10 फरवरी को स्कूल जाते वक्त गायब हो गई थी। चार दिन बाद उसकी लाश मुख्यमंत्री आवास के पास एक नाले से बरामद हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ये साफ हुआ था कि छात्रा के साथ गैंगरेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। ये भी पता चला था कि गैंगरेप के बाद छात्रा को बुरी तरह पीटा गया था। इसी वजह से उसकी मौत हुई थी। इस घटना के बाद लखनऊ में आम लोग दहशत में हैं। वहीं पुलिस पर लापरवाही बरतने के इल्जाम भी लग रहे हैं। सवाल ये भी उठ रहे हैं कि गुमशुदगी की रिपोर्ट मिलने के बावजूद पुलिस हरकत में क्यों नहीं आई। फिलहाल पुलिस का कहना है कि बहुत जल्द घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

और पढ़े -   हिंसा के बाद योगी सरकार आई हरकत में, आला आधिकारी सस्पेंड, धारा 144 के साथ इंटरनेट पर रोक

आपको बता दें बीते कुछ दिनों में लखनऊ में अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ा है। एक बड़े कारोबारी की हत्या हुई, फाइव स्टार होटल के असिस्टेंट मैनेजर नमन वर्मा का कत्ल और छेड़खानी से तंग छात्रा की खुदकुशी। ये सब घटनाएं बताती हैं कि लखनऊ में अपराधी बेखौफ हैं। वहीं पुलिस की साख इस लिए दांव पर है क्योंकि पुलिस ज्यादातर घटनाओं का खुलासा नहीं कर पाई है। ऐसे में बड़ा मुद्दा ये भी है कि जब प्रदेश की राजधानी ही अपराध से दहल रही है तो दूसरे इलाकों के हालात कैसे होंगे। (ibnlive)

और पढ़े -   असम: आतंकियों को आर्थिक मदद देने पर बीजेपी नेता सहित 2 को उम्रकैद की सज़ा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE