उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में जातीय हिंसा को लेकर डलहोजी से गिरफ्तार किये गए भीम आर्मी के संस्थापक और दलित नेता चन्द्रशेखर रावण को आज पुलिस ने अदालत में पेश किया. अदालत ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) मेरठ जोन आनंद कुमार ने बताया कि चंद्रशेखर को कल हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के डलहौजी स्थित एक होटल से गिरफ्तार किया गया था. कल देर शाम पुलिस उसे सहारनपुर लेकर आई थी. रात को ही चन्द्रशेखर को अपर मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी (एसीजेएम) द्वितीय दीनानाथ की अदालत में पेश किया गया. अदालत ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में उसे जेल भेज दिया.

द्रशेखर के खिलाफ सहारनपुर में गत दो मई को हुई हिंसा के संबंध में कोतवाली देहात में अपराध संख्या 159/17 भारतीय दण्ड विधान (आईपीसी) की धारा 147, 148, 335, 427, अपराध संख्या 160/17 आईपीसी की धारा 147, 148, 335, 427 और अपराध संख्या 162/17 आईपीसी की धारा 147, 148, 497, 307, 332, 353, 436, 427 और भादवि एवं 7 क्रिमिनल एक्ट और 3/4 लोकसंपत्ति क्षति निवारण अधिनियम में मामला दर्ज है.

वहीँ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि चंद्रशेखर ने हिंसक वारदातों को अंजाम दिया है और फरारी के दौरान भी वह वीडियाे, आडियों एवं मेसेज जारी कर लोगों को भड़काने का काम कर रहा था. पुलिस ने 28 दिन भूमिगत रहने के बाद कल उसे गिरफ्तार किया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE