राजधानी जयपुर में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की सामूहिक आत्महत्या का मामला सामने आया है. पुलिस ने इस सबंध में महंत बाबा विशंभर दास को गिरफ्तार किया है.

करधनी थाना इलाके में रहने वाले बुधवार को एक प्रोपर्टी कारोबारी डूंगरराम के परिवार के सभी सदस्यों ने एक साथ मौत को गले लगाया था. मौके पर ही तीन बच्चों समेत उसकी मौत हो गई थी. हालांकि सवाई मानसिंह अस्पताल में एक बच्चा जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा था.

और पढ़े -   मदरसे के पानी में जहर मिलाने की घटना थी पूर्व नियोजित: सलमा अंसारी

लेकिन गुरूवार सुबह इलाज के दोैरान डूंगरराम के छोटे बेटे धमेंद्र की भी मौत हो गई. धमेंद्र की मौत के साथ ही पूरे परिवार खत्म हो गया. डूंगरराम ने अपने सुसाइड नोट में मंहत विशंभर दास महाराज द्वारा लाखों रूपये हडपने की बात लिखी.

ऐसे में मौत का जिम्मेदार विशंभरदास को माना जा रहा है. पुलिस ने डूंगरराम के घर पर तलाशी भी ली, लेकिन उन्हें कोई ऐसी डायरी या दस्तावेज भी नही मिलें जिसके आधार पर लेन-देन का हिसाब मिल सके.

और पढ़े -   देशभक्ति के झूठे प्रमाण-पत्र बांट कर देशभक्ति की व्याख्या बदलने की कोशिश: तुषार गांधी

पुलिस ने घर से मिले फोन को एफएसएल मेें जांच के लिए भिजवा दिया और काॅल डिटेल के आधार पर मामले के सभी पहलुओं की जांच कर रही है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE