हजार एकड़ में जली गेहूं की फसल, किसानों ने NH पर गाड़ियों को तोड़ागोरखपुर : संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर और गोरखपुर में एक हजार एकड़ से अधिक क्षेत्र में लगी गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। आग इतनी भयानक थी कि संतकबीरनगर-सिद्धार्थनगर राजमार्ग पर ट्रैफिक रोकना पड़ा। संतकबीरनगर में आग 10 किलोमीटर इलाके में फैल गई। दो घर भी जल गए हैं।

खेत में आग, सड़क पर किसान
-गोरखपुर जनपद में आगजनी की घटनाएं रुकने का नाम नही ले रही हैं। फसल के साथ गरीब किसानों के सपने जलकर राख हो रहे हैं।
-लेकिन प्रशासन सक्रियता नहीं दिखा रहा है। आक्रोशित किसानों ने एनएच 29 को जाम कर प्रसाशन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
-नाराज किसानों ने वाहनों में तोड़फोड़ की।

किसानों ने बस में की तोड़फोड़

किसानों ने बस में की तोड़फोड़

क्यों भड़के किसान
-बेलीपार थाना क्षेत्र के डावरपार, कुस्मौल के नगरी कालिका स्थान के पास गेहूं की फसल में भीषण आग लग गई थी।
-देखते ही देखते आग  विकराल रूप ले लिया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना गोरखपुर फायर स्टेशन को दी, लेकिन घंटो बाद भी उन्हें मदद नहीं मिली।
-इसके बाद उग्र किसानों और ग्रामीणों ने हाईवे पर खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ की।

बांसगांव ब्लॉक के गोड़सैरा के तीन मोहनिया कुआं के पास भूसा मशीन से लगी आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। गोड़सैरा,जमौली,धनईपुर,करहल, भुसवल,नगरी कलिका मंदिर, बांसगांव कछार कुसमौल, आदि गांव के लोगों की फसलो तथा डंठल को को आग तेजी से अपनी आगोश में लेते हुए नाऊदेऊर की ओर से आगे की ओर बढ़ गई।

जल्द मिलेगा मुआवजा   
एसडीएम ने कहा कि जो भी दमकल थी तहसील में 9 जगहों पर आग बुझाने में व्यस्थ ती। किसानों का नुकसान हुआ है अभी उसका आकलन किया जा रहा है। 15 दिनों के अंदर आकलन करके सर्वे रिपोर्ट तैयार कर लिया जाएगा। किसानों को सही मुआवजा दिया जाएगा।

पटाखा फैक्ट्री में आग

सिद्धार्थनगर के उस्का थाना क्षेत्र में पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो लोग झुलस गए हैं। पटाखा बनाते समय विस्फोटकों में आग लग गई। (newztrack.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें