आगरा : पुलिस सूत्रों के मुताबिक आगरा में भड़काऊ भाषण देने के लिए पार्षद और भाजपा नेता कुंदनिका शर्मा और तीन दूसरे लोगों के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज की गयी है |

image

एफआईआर में मंगलवार शाम को आगरा में विहिप नेता अरुण माहुर(जिसकी 25 फरवरी को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी) के लिए आयोजित शोकसभा में मानव संसाधन विकास मंत्रालय राज्य मंत्री राम शंकर कठेरिया और फतेहपुर सीकरी से सांसद चौधरी बाबू लाल पर कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाया गया है |

पुलिस सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि जांच के दौरान प्राथमिकी में शामिल आगरा के सांसद और विधायक से इस मामले में पूछताछ की जा सकती है|

हालांकि, कठेरिया ने आरोपों से इनकार करते हुए मीडिया में आई खबरों की प्रामाणिकता पर सवाल उठाया है ।

विश्व हिंदू परिषद की स्थानीय इकाई ने एफआईआर दाखिल करने की आलोचना की है और ‘लोगों के लिए लड़ाई “लेने का संकल्प लिया है, वहीं हिन्दू जागरण मंच ने राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत गोहत्या के लिए जिम्मेदार लोगों की गिरफ्तारी की मांग की है ।

युवा कोरी समाज आने वाले मंगलवार को एक विशेष रूप से डिजाइन सात घोड़ों द्वारा संचालित वाहन में अस्थि कलश यात्रा निकालने की घोषणा की है |

एफआईआर से नाराज भाजपा के स्थानीय नेताओं ने घोषणा की है कि पार्टी कार्यकर्ता जिले के पुलिस स्टेशनों पर विरोध प्रदर्शन (धरने) करेंगें | जिला अध्यक्ष अशोक राणा ने कहा कि सरकार की कार्रवाई के खिलाफ बड़े पैमाने पर लामबंदी के लिए एक रणनीति तैयार की जा रही है |

पुलिस सूत्रों के मुताबिक , जयपुर हाउस कॉलोनी पुलिस चौकी इंचार्ज अनिल कुमार ने एफआईआर में आरोप लगाया है कि एफआईआर में शामिल लोगों ने सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने क लिए उत्तेजक भाषण दिए थे |

एसएसपी प्रीतेंदर सिंह ने कहा कि वीडियो क्लिप की जाँच की जा रही है और जिन्होंने भी आपत्तिजनक बयान दिया उनके खिलाफ भड़काऊ भाषण कानून के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।
एनएसयूआई के सदस्यों ने एसएसपी को दिए ज्ञापन में कथित तौर पर एक वर्ग विशेष को लक्षित करते हुए दिए गये भडकाव भाषण के खिलाफ कार्यवाई की मांग की |

कांग्रेस की राज्य इकाई के सचिव शब्बीर अब्बास ने भी मंत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

भाजपा बृज प्रांत के अध्यक्ष पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने कहा है कि राज्य सरकार की ओर से दिए गये दबाव की वजह से स्थानीय प्रशासन ने मामला दर्ज किया है |

विहिप ने स्पष्ट किया है कि शोक सभा में नफरत अंगेज़ भाषण देने वाली साध्वी प्राची संगठन की न तो कोई पदाधिकारी हैं और न ही प्रवक्ता | (Siasat)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें