नई दिल्ली – बीजेपी सांसद और केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री रामशंकर कठेरिया ने कहा है कि उन्होंने आगरा में वीएचपी नेता अरुण माथुर की शोकसभा में भड़काऊ भाषण नहीं दिया था। उन्होंने कहा, ‘मेरे बयान के बारे में जो भी छपा है, पूरी तरह झूठ है। मैंने किसी समुदाय का नाम नहीं लिया।’

final war against Muslims

कठेरिया ने कहा, ‘मैंने यह कहा कि जिन्होंने हत्या की उन्हें फांसी हो। मेरे पास सीडी है, सारी बातें गलत हैं। मैंने ‘बदला’ और ‘हथियार’ शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया। मैंने सिर्फ श्रद्धांजलि अर्पित की।’

अब इस कड़ी में कठेरिया के साथ सदन में बैठे बीजेपी सासद बाबूलाल ने बयान का समर्थन करते हुए कहा, ‘बदला नहीं लेंगे तो क्या ऐसे लोगों की आरती उतारेंगे? जब सरेआम हिन्दू समाज पर गोली से हमला किया जा रहा है तो ऐसे में हिन्दू एकजुट नहीं होगा तो कहां जाएगा?’

बीजेपी सांसद ने कहा, बदला नहीं लेंगे तो क्या आरती उतारेंगे?

बाबूलाल के बयान पर लोकसभा में मंगलवार को कांग्रेस सांसदों ने जमकर हंगामा किया, जिसके बाद लोकसभा की कार्यवाही 11.30 बजे तक स्थगित कर दी गई.

और पढ़े -   हिंसा के बाद भी बंगाल में कायम है सद्भाव, मुस्लिम पड़ोसियों ने किया हिंदू युवक का अंतिम संस्कार

इससे पहले, सदन में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खरगे, सासद ज्योतिरादित्य सिंधिया और आनंद शर्मा ने सदन में कठेरिया के बयान के खिलाफ स्थगन प्रस्ताव पेश किया. इसके बाद सत्ता पक्ष के विधायकों ने भी जमकर विरोध किया. इस शोर शराबे के बीच लोक सभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्रवाही स्थगित कर दी.

क्या कहा था कठेरिया ने?

और पढ़े -   खुद आगे आकर घाटी के मुस्लिमों ने किया कश्मीरी पंडित का अंतिम संस्कार

आगरा में विश्व हिंदू परिषद के नेता अरुण माथुर की हत्या के बाद श्रद्धांजलि देने के नाम पर आयोजित की गई शोक सभा में मुस्लिमों से बदला लेने के नारे लगे थे. खास बात ये है कि इस मंच पर उस समय केंद्रीय मंत्री रामशंकर कठेरिया और फतेहपुर सीकरी के सांसद बाबूलाल भी मौजूद थे.

दिलचस्‍प बात यह है कि किसी ने भी भड़काऊ बयानबाजी रोकने की कोशिश नहीं की. वहां मौजूद स्थानीय नेताओं ने कहा कि ‘ये राक्षस हैं. रावण के वंशज हैं. इनको अब निर्णायक लड़ाई के लिए तैयार रहना होगा.’

और पढ़े -   लुधियाना में पादरी की हत्या: सीएम अमरिंदर ने दिए सांप्रदायिक ताकतों पर कार्रवाई के आदेश दिए

वीएचपी के नेता अशोक लवनिया ने कहा, ‘माथुर की 13 वीं दिन हम उनको मारने वालों की खोपड़ी चढ़ाएंगे. अब सारी तैयारी हो चुकी हैं’.

अशोक इससे पहले भी एक बार सांप्रदायिकता के आरोप में जेल जा चुके हैं. गौरतलब है कि आगरा में वीएचपी नेता अरूण माथुर की कुछ दिन पहले ही हत्या हो गई थी. जिसका आरोप तीन मुस्लिम युवकों पर है.

#BJP mP Babul;al#Congress MP protest#Lok Sabha#Minister Ram Shankar Katheria#revenge remark#VHP leader murder


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE