महाराष्ट्र में अच्छे दिनों के वादे के साथ सत्ता में आई बीजेपी की सरकार के शासन में अच्छे दिनों को तो आना छोड़िये बल्कि बुरे दिन ही खत्म नहीं हो रहे है. मामला धुले का है. जहाँ  एक किसान ने घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, 40 वर्षिय किसान भरत पाटिल ने कुछ महीने पहले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से एक लाख रुपए का लोन लिया था, लेकिन कर्ज नहीं चुका पाने के कारण उससे मौत को गले लगाना पड़ा.

याद रहे महाराष्ट्र में किसानों के आत्महत्या करने का यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी बहुत सारे किसान आत्महत्या कर जान दे चुके हैं. इधर किसानों की कर्जमाफी और अन्य मांगों को लेकर महाराष्ट्र में किसानों का आंदोलन भी चल रहा है.

महाराष्ट्र के लगभग 8 जिलों के किसानों हड़ताल पर हैं. जिसका असर आम जनता पर पड़ा है. किसानों ने हजारों लीटर दूध सड़क पर गिरा दिया. सब्जियों मंडियों में सब्जी की सप्लाई ठप है. हालांकि आज हड़ताल खत्म करने की खबर थी लेकिन उसमें भी कुछ किसानों ने आपत्ति जताई.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE